Thu. May 30th, 2024

जाड0समलिड भिक्षुणी मठ, पोंडा (महिला शिक्षण केन्द्र) के सस्थापक ,प्रमुख व अध्यात्मिक गुरू लोछेन टुल्कु रिन्पोंछे ने जिलावासीयों के नाम अपने संदेश में आग्रह किया है कि किन्नौर जिला विशेषकर ऊपरी किन्नौर के लोगों से आग्रह किया है कि नव वर्ष के उपल्क्ष में मनाए जाने वाले लोसर पर्व को सामुहिक रूप से न मनाए। उन्होनें कहा कि पुरा विश्व कोविड-19 वैश्विक महामारी की चपेट मंे है हमारे किन्नौर जिला में भी दिन प्रति दिन कोविड के मामलों में वृृद्वि हो रही है जिसका मुख्य कारण सामुहिक समाजिक आयोजन है। इन आयोजनो के चलते जिले में कोरोना मामले अधिक संख्या में सामने आ रहे हैं ।
टुल्कु रिन्पोंछे ने लोगों से लोसर पर्व अपने घर पर परिवार के सदस्यों के साथ ही मनाने का आग्रह किया है। उन्होनें शादी विवाह व अन्य धार्मिक आयोजन यदि अति आवश्क हो तब ही आयोजित करने की सलाह दी है। अन्यथा कुछ समय के लिए स्थगित करने का आग्रह किया है। उन्होनें जिलावासीयों से केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का कडाई से पालन करने का आग्रह किया है तथा कहा कि यह सभी निर्देश हम सभी की भलाई के लिए जारी किए गए है। उन्होनें सभी से मास्क पहने व दो गज की आवश्क दुरी के नियम को अपने दैनिक दिनचर्या में शामिल करने को कहा तथा नियमित रूप से साबुन व पानी से हाथ धोने की सलाह दी हैै।
अध्यात्मिक गुरू टुल्कु रिन्पोंछे ने बुर्जुगों व बच्चों से समाजिक आयोजनो व भीड-भाड वाले स्थानों पर न जाने को कहा है क्योकिं देखने में आया है कि बुर्जुगों व बच्चों में कोरोना संक्रमण की अधिक सम्भावना रहती है।
उन्होेनें लोगों से कोरोना संक्रमण के लिए जिला प्रशासन द्वारा उठाए गए पगों में अपना सहयोग देने को भी कहा ताकि किन्नौर जिला को कोरोना मुक्त बनाया जा सकें।