Sun. May 26th, 2024

मुख्यमंत्री ने नाचन विधानसभा क्षेत्र के लिए 133 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास व उद्घाटन किए

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से मंडी जिले के नाचन विधानसभा क्षेत्र के लिए 133 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए।
उन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत 8.65 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली 17.500 किलोमीटर हफवाना पन्यास सड़क, 2.42 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली पांच किलोमीटर जैदेवी-सियानजी सड़क, 1.48 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली 6.200 किलोमीटर पीपलु से मगर सड़क, 2.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली चार किलोमीटर मांडोगालु से फंग्यार सड़क के रखरखाव व टायरिंग तथा 1.20 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना सलवाहन, बाग, लहरा और लोअर कोट के लोकार्पण किए।
मुख्यमंत्री ने गुडाहरी में 52.82 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले अटल आदर्श विद्यालय गोहर के भवन, राजकीय महाविद्यालय बासा में 6.98 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इंडोर स्टेडियम, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धन्गयारा में 1.36 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले विज्ञान प्रयोगशाला भवन, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला फंगवास में 1.36 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले विज्ञान प्रयोगशाला भवन, समनोस में ज्यूनी खड्ड पर 67.30 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 18 मीटर लम्बे जीप योग्य पुल, शाल्ला में ज्यूनी खड्ड पर 1.39 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 40 मीटर लम्बे जीप योग्य पुल, रोपा में ज्यूनी खड्ड पर 1.26 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 36 मीटर लम्बे जीप योग्य पुल और भोर में कन्सा खड्ड पर 1.39 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 40 मीटर लम्बे जीप योग्य पुल की आधारशिलाएं रखीं।
जय राम ठाकुर ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत 8.54 करोड़ रुपये की लागत के 11.200 किलोमीटर चैल-मोवीसेरी सम्पर्क सड़क के उन्नयन, 3.50 करोड़ रुपये की लागत के 6.200 किलोमीटर स्यांह-ढाबण सड़क के उन्नयन, 6.69 करोड़ रुपये की लागत की भलोथी सरयाच सड़क, 1.94 करोड़ रुपये की लागत से सियान्ज डोल रोपा सड़क पर डोल में ज्यूनी खड्ड पर 40 मीटर लम्बे पुल, ग्राम पंचायत पलहोटा के छनेरी, नेहरा, पलहोटा के लिए 1.91 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, क्षेत्र की आंशिक रूप से कवर बस्तियों के लिए 2.82 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत कनैड, भौर, डुगरांई, छात्तर आदि की बस्तियों के लिए 15.73 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजना, छाबण और टांडा के लिए 3.14 करोड़ की जलापूर्ति योजना, धीस्टी, लोट, टुन्ना और शाला गांवों के लिए 2.25 करोड़ रुपये की उठाऊ जलापूर्ति योजना, कामरूनाग में 40 लाख रुपये का निरीक्षण कुटीर, जाछ में 70 लाख रुपये से वन विश्राम गृह तथा 50 लाख रुपये की लागत से देवीदड़ वन विश्राम गृह के विस्तारीकरण की आधारशिला रखी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश को विकास के मामले में देश का अग्रिम राज्य बनाने के लिए अग्रसर है। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी जिन विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला आज उन्होंने रखी गई है, उन्हें निर्धारित समयावधि में पूरा किया जाना सुनिश्चित बनाया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य की पिछल्ी कांग्रेस सरकार ने केवल घोषणाएं की और जमीनी स्तर पर कुछ भी नहीं किया। कांग्रेस सरकार ने कार्यकाल के अंतिम वर्ष में राज्य के विभिन्न हिस्सों में केवल आधारशिलाएं रखीं, जिन्हें वर्तमान राज्य सरकार द्वारा पूरा किया गया है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। राज्य में आयोजित 189 जन मंच में लगभग 50,000 शिकायतों का निपटारा किया गया है। मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन 1100 के तहत 69,000 से अधिक मुद्दों का निपटारा किया गया है। उन्होंने कहा कि 5.70 पात्र लोगों को बढ़ी हुई दर से सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जा रही है।
उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत पात्र परिवारों को 2.77 लाख मुफ्त गैस कनेक्शन दिए गए हैं। हिमकेयर योजना के अन्तर्गत लगभग 86 हजार लोगों को 77 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है। इसके अलावा, सहारा योजना के अन्तर्गत लगभग 6600 परिवारों को 3.50 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है।
जय राम ठाकुर ने कहा कि नाचन क्षेत्र के लोगों ने पीएम केयर्स और मुख्यमंत्री कोविड फंड में उदारतापूर्वक 32 लाख रुपये से अधिक का योगदान दिया है। इसके अतिरिक्त, पार्टी कार्यकर्ताओं ने मास्क तैयार कर क्षेत्र के लोगों को वितरित किए।
जल शक्ति और बागवानी मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के गतिशील नेतृत्व में राज्य सरकार हर क्षेत्र के समग्र विकास के लिए कृतसंकल्प है। यह राज्य का सौभाग्य है कि हमें जय राम ठाकुर जैसे ईमानदार और कठिन परिश्रमी व्यक्ति का नेतृत्व प्राप्त हुआ है। पिछले लगभग दो वर्षों की समय अवधि में हिमाचल प्रदेश प्रगति और खुशहाली की राह पर तेजी से आगे बढ़ा है। यहां तक कि कोरोना महामारी के बावजूद प्रदेश में विकास की गति निर्बाध चल रही है जिसका श्रेय मुख्यमंत्री को जाता है।
उन्होंने कहा कि नाचन विधानसभा क्षेत्र में 176 करोड़ रुपये लागत की पेयजल एवं सिंचाई योजनाएं और लोक निर्माण विभाग की 104 करोड़ रुपये की योजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं।
सांसद रामरूवरूप शर्मा ने समाज के गरीब वर्गों के कल्याण के लिए केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना और गृहिणी सुविधा योजना प्रदेश की लाखों महिलाओं के लिए वरदान साबित हुई हैं।
स्थानीय विधायक विनोद कुमार ने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्क मांगों को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व नाचन क्षेत्र का अभूतपूर्व विकास हुआ है।
जिला भाजपा अध्यक्ष दलीप सिंह ठाकुर, मण्डल भाजपा अध्यक्ष सोहन सिंह और महासचिव हुकम भी इस अवसर पर उपस्थित थे