Thu. May 30th, 2024

शिमला, 07 जनवरी
उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज यहां अपने कार्यालय कक्ष में कोविड-19 महामारी की रोकथाम के संदर्भ में टीकाकरण अभियान की जिला टास्क फोर्स की बैठक ली।
उन्होंने स्वास्थ्य, आयुर्वेद, आशा कार्यकर्ताओं व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बेहतर समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए तथा गहनता से उपस्थित अधिकारियों से विचार-विमर्श किया। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों से दुर्गम एवं अति दुर्गम क्षेत्रों में किए गए प्रबंधनों पर जानकारी प्राप्त की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
उन्होंने बताया कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए कोल्ड चैन प्रक्रिया एवं चयनित लोगों पर विशेष ध्यान देना अनिवार्य है, जिससे इस महामारी से निजात मिल सके और सामान्य व्यवस्था कायम हो सके।
इसके उपरांत उन्होंने जिला में हिम सुरक्षा अभियान के अंतर्गत किए गए 11 स्वास्थ्य खण्डों में विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की जानकारी ली और उपस्थित स्वास्थ्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों से विस्तृत चर्चा की और उनके सुझाव आमंत्रित किए।
आदित्य नेगी ने बताया कि वर्तमान प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सुविधाएं ग्रामीण क्षेत्रों में घर द्वार पर उपलब्ध करवाने के लिए कटिबद्ध है तथा रिक्त पदों को शीघ्र भरने का आश्वासन दिया। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्धन एवं उपेक्षित वर्गों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने का आह्वान किया।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सुरेखा चैपड़ा, डाॅ. मुनीश सूद, नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. चेतन चैहान, आयुर्वेद, शिक्षा एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी भी उपस्थित थे।