Sun. Jun 16th, 2024

उपायुक्त हेमराज बैरवा ने आज यहां प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत गठित जिला स्तरीय अभिसरण समिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबंधित विभागों को पुनः योजना तैयार करने के निर्देश दिए।
उपायुक्त ने प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना से जुड़े सभी विभागों को सामाजिक, आर्थिक संकेतकों की शत-प्रतिशत प्राप्ति सुनिश्चित बनाने के लिए बिन्दुवार कार्य योजना तैयार करने के भी शीघ्र निर्देश दिए ताकि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना की परिकल्पना को साकार रूप दिया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रधनमंत्री आदर्श ग्राम योजना की मुख्य संकलप्ना चिन्हित गांव को बुनियादी सेवाएं देने के साथ-साथ समाज के सभी न्यूनतम आवश्यकताओं की पूर्ति व असमानताएं कम करना है। उन्होंने कहा कि योजना के तहत इन गांव में एसी अधोसरंचना विकसित की जाएगी जिससे सभी ग्राम वासियों को एक समान जनक जीवन जीने के लिए बुनियादी सेवाएं उपलब्ध हो सकें।
किन्नौर जिला के तीन गांव प्रधानमंत्री ग्राम विकास योजना के तहत चयनित किए गए हैं, जिसमें ग्राम पंचायत चगांव का धर्मालिंग गांव, ग्राम पंचायत काफनू का काफनू गांव व ग्राम पंचायत पौण्डा का कंगोस गांव शामिल हैं। इन गांव का चयन भारत सरकार द्वारा निर्धारित माप-दण्डों के तहत किया गया है। इन गांव की कुल आबादी का 50 प्रतिशत अनुसूचित जाति का है।
बैठक की कार्यवाही का संचालन जिला कल्याण अधिकारी गिरधारी लाल शर्मा ने किया। बैठक में निचार विकास खण्ड के खण्ड विकास अधिकारी, शिक्षा विभाग के उप-निदेशक, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग व पौण्डा, चगांव व काफनू गांव के प्रधान सहित विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।