Mon. Mar 4th, 2024

एनएचपीसी द्वारा चम्बा जिले में उत्पादित की जाने वाली कुल 1251 मेगावाट विद्युत में से चमेरा-II पावर स्टेशन 300
मेगावाट तथा चमेरा-III पावर स्टेशन 231 मेगावाट विद्युत का महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है जिसका लाभ सारे उत्तर भारत
को पहुँचाया जा रहा है ।
विद्युत उत्पादन के अलावा स्थानीय क्षेत्र के विकास की अपनी प्रतिबद्धता के तहत चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन द्वारा वित्त
वर्ष 2020-21 में निगमीय सामाजिक दायित्व एवं सतत विकास योजना के अंतर्गत ग्रामीण विकास के क्षेत्र में छतराड़ी गाँव
में स्ट्रीट लाइट लगाने का कार्य, भरमौर स्थित राज्य जनजातीय बालिका छात्रावास के किचन व डाइनिंग हॉल के नवीकरण
का कार्य पूरा करा दिया गया है तथा चम्‍बा में स्थित पंडित जवाहर लाल नेहरू मैडिकल कॉलेज के समीप स्थित चौगान का
सौंदर्यीकरण किया जा चुका है व इसी दौरान कसाकरा में स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय का नवीकरण कर दिया गया
है। इसके साथ करियाँ में स्थित एनएचपीसी चिकित्सालय को सुदृढ़ करने हेतु 23 लाख की राशि तथा केंद्रीय विद्यालय को
अपग्रेड करने के लिए रु. 2 करोड़ की राशि मुहैया कराई गई है। इससे पूर्व चम्‍बा को aspirational district जिला घोषित
किए जाने के फलस्‍वरुप एनएचपीसी द्वारा पंडित जवाहर लाल नेहरु मेडिकल कॉलेज, चम्‍बा को रुपए 10 करोड़ 27 लाख
की लागत से एमआरआई एवं सी.टी. स्‍कैन मशीनें प्रदान की जा रही हैं तथा रुपए 9 करोड़ 5 लाख की लागत से 30
राजकीय प्राथमिक विद्यालयों एवं 22 राजकीय माध्‍यमिक विद्यालयों का निर्माण किया जाना प्रस्‍तावित है
कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन द्वारा लॉक डाउन के दौरान जरूरतमंद और फंसे
हुए श्रमिकों के लगभग 360 परिवारों को राशन सामाग्री, 300 गरीब परिवारों को स्वच्छता किट (सेनेटाइजर, मास्क,
हैंडवॉश इत्यादि) एवं 4 ग्राम पंचायतों, 8 सरकारी स्कूलों व प्रेस क्लब को 4000 N-95 मास्क, 8 इन्फ्रा रेड थर्मामीटर, 8
सेनेटाइजर डिस्पेन्सर, 800 लीटर सेनेटाइजर तथा चम्बा पुलिस को पीपीई किट व थर्मल स्कैनर का वितरण किया गया
इसके अतिरिक्त कोविड संक्रमण की कड़ी को तोड़ने के लिए एडीएम भरमौर को पेडेस्टल हैंड सेनीटाइज़र डिस्पेन्सर का
वितरण किया गया।
COVID-19 की दूसरी जानलेवा लहर के बाद और वर्तमान में चम्बा जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों को देखते
हुए हमारी ज़िम्मेदारी बनती है कि हम प्रशासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए भारत का 75वां स्वतंत्रता
दिवस मनाए और कोविड-19 महामारी को हराने में अपना योगदान दें।