Thu. May 30th, 2024

मंडी, 9 नवंबर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी ने राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के उपलक्ष्य पर 9 नवंबर को

मंडी, 9 नवंबर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी ने राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस के उपलक्ष्य पर 9 नवंबर को मंडी जिला में विभिन्न स्थानों पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किए। इस श्रृंखला में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंडी के सचिव सूर्य प्रकाश ने बाड़ी गुमाणू पंचायत में आयोजित विधिक सेवा शिविर में लोगों को उनके कानूनी अधिकारों लेकर शिक्षित किया। उन्होंने प्राधिकरण की निशुल्क विधिक सेवाओं की भी जानकारी दी।
सूर्य प्रकाश ने दंड प्रक्रिया संहिता में सीआरपीसी की धारा 125 के तहत “पत्नी, संतान और माता-पिता के भरण पोषण के लिए आदेश” के प्रावधानों के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने लोगों को राजस्व मामलों से जुड़े कानूनी नियम कायदों के बारे में भी जानकारी दी। इस मौके लोगों को कानूनी अधिकारों एवं निशुल्क विधिक सेवाओं को लेकर जागरूक करने के लिए विशेष रूप से प्रकाशित शिक्षा व प्रचार सामग्री वितरित की गई।
बाड़ी गुमाणू शिविर के उपरांत सूर्य प्रकाश ने गोहर ब्लॉक की विभिन्न पंचायतों के जनप्रतिनिधियों व आम नागरिकों के साथ वर्चुअल माध्यम से संवाद किया व उन्हें कानूनी अधिकारों को लेकर जागरूक किया। इसके अलावा राष्ट्रीय विधिक सेवा दिवस पर जोगिंद्रनगर, सरकाघाट, थुनाग और करसोग में भी विधिक सेवा शिविर लगाए गए।
सूर्य प्रकाश ने बताया कि मंडी जिला में 8 से 14 नवंबर तक के सप्ताह को विधिक सेवा सप्ताह के तौर पर मनाया जा रहा है। इस दौरान जिले में कानूनी अधिकारों की अलख जगाने को बहुत सी गतिविधियां की जा रही हैं।