Fri. Apr 12th, 2024

शिमला – 26 नवम्बेर,2020

एसजेवीएन लिमिटेड द्वारा उसकी अधीनस्थ‍ कंपनी एसजेवीएन थर्मल प्राइवेट कंपनी लिमिटेड द्वारा निष्पाीदित की जा रही 1320 मेगावाट बक्सीर थर्मल विद्युत परियोजना के लिए वित्तीडय क्लोवजर आज हासिल हो गया है । पब्लिक सेक्टार अंडरटेकिंग्सल पावर फाइनेंस कारपोरेशन (पीएफसी) तथा रूरल इलैक्ट्रीहफिकेशन कारपोरेशन (आरईसी) के साथ कुल देनदारी रू.8520.92 करोड़ का ऋण देंगी तथा दोनों कंपनियां रू.4260.46 करोड़ प्रति का वित्त. पोषण समान रूप से करेंगी । वित्तीाय क्लोंजर समझौता श्री नंद लाल शर्मा, अध्य़क्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन तथा श्री आर.एस. ढि़ल्लकन, अध्य क्ष एवं प्रबंध निदेशक, पीएफसी की उपस्थिति में श्री एस.एल. शर्मा (सीएफओ) , एसटीपीएल, श्री सीबीएस अरूणांचलम, (सीजीएम) पीएफसी तथा श्री संजय कुलश्रेष्ठर, (सीजीएम) आरईसी द्वारा हस्तारक्षरित हुआ ।
वित्तीेय क्लो,जर कार्यक्रम का आयोजन श्री ए.के.सिंह, निदेशक (वित्तप) एसजेवीएन, निदेशक (वाणिज्यिक) पीएफसी तथा श्री संजीव सूद (सीईओ), एसटीपीएल की गरिमामयी उपस्थिति में किया गया ।
श्री नंद लाल शर्मा ने कहा कि बिहार सरकार द्वारा निष्पाी‍दन के लिए बक्सिर थर्मल पावर प्रोजेक्टल एसजेवीएन को अवार्ड किया गया है । परियोजना के लिए ईपीसी अनुबंध जून,2019 में मैसर्स एल एंड टी को अवार्ड किया गया था तथा परिहयोजना का कार्य अपनी पूरी गति पर है ।
श्री शर्मा ने बताया कि परियोजना की कमीशनिंग जून,2023 तक की जानी है । परियोजना स्था नीय लोगों के लिए रोजगार लाभ, ढांचापरक विकास को बढ़ाने तथा स्थारनीय क्षेत्र के सामाजिक आर्थिक समृद्धि के नए युग की शुरूआत करेगा ।
यह परियोजना एसजेवीएन के वर्ष 2023 तक 5000 मेगावाट, वर्ष 2030 तक 12000 मेगावाट तथा वर्ष 2040 तक 25000 मेगावाट की कंपनी बनने के सांझा विजन को प्राप्तय करने की ओर बढ़ता हुआ एक महत्व पूर्ण चरण होगी ।
एसजेवीएन की वर्तमान संस्था्पित क्षमता 2016.51 मेगावाट है तथा विकास के विभिन्नप चरणों के तहत 5674 मेगावाट की परियोजनाएं निष्पा.दनाधीन हैं । एसजेवीएन ने ऊर्जा उत्पाादन के विभिन्नह सेक्ट्रों में अपनी उपस्थिति दर्ज की है जिसमें जल, पवन , सौर सेक्ट र शामिल है । कंपनी एनर्जी ट्रांसमिशन के क्षेत्र में भी अपनी उपस्थिति बनाए हुए है ।

————– 0 ————–
आपके सम्मा-नीय समाचापत्र में प्रकाशनार्थ