Tue. May 28th, 2024

एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक ने नेपाल के प्रधानमंत्री को कंपनी की विद्युत परियोजनाओं के तेजी से विकास संबंधी चिंताओं से अवगत कराया

शिमला- 13 सितंबर, 2021
नेपाल में कंपनी की चल रही परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने के अपने प्रयास में एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री
नन्द लाल शर्मा ने काठमांडू में नेपाल के प्रधानमंत्री, शेर बहादुर देउबा के साथ एक और बैठक की।  एसजेवीएन नेपाल में 400
केवी ट्रांसमिशन लाइन परियोजना के अलावा 900 मेगावाट की अरुण-3 जल विद्युत परियोजना और डाउनस्ट्रीम 679 मेगावाट
की लोअर अरुण परियोजना का निर्माण कर रहा है।
नेपाल में कंपनी की परियोजनाओं के दौरे से लौटने पर, श्री शर्मा ने माननीय प्रधानमंत्री को 900 मेगावाट अरुण-3 जल विद्युत
परियोजना की प्रगति से अवगत कराया।  इस बैठक का उद्देश्य एसजेवीएन की कुछ उन चिंताओं से माननीय प्रधानमंत्री को
अवगत कराना था जिनका परियोजना के तेजी से पूरा होने पर प्रभाव पड़ सकता है।  श्री शर्मा ने तेजी से विकास के तरीकों और
नेपाल में हिमालयी नदियों की जलविद्युत क्षमता के दोहन पर भी चर्चा की।  उन्होंने संसाधनों के बेहतर उपयोग और जलविद्युत
परियोजनाओं के तेजी से विकास के लिए एक बेसिन एक डेवलपर की अवधारणा पर फिर से जोर दिया।
नेपाल के प्रधानमंत्री ने अरुण-3 जल विद्युत परियोजना की प्रगति की सराहना की और श्री शर्मा को एसजेवीएन की चिंताओं को
दूर करने के लिए नेपाल सरकार द्वारा उपयुक्त कार्रवाई का आश्वासन दिया।
इससे पहले नेपाल में एसजेवीएन की परियोजनाओं के दौरे के दौरान श्री नन्द लाल शर्मा ने 900 मेगावाट अरुण-3 परियोजना के
पावर हाऊस, सर्ज शाफ्ट और ट्रांसफार्मर हॉल के कार्यों की प्रगति की समीक्षा की।  मैसर्स पटेल इंजीनियरिंग लिमिटेड
(सी-2 पैकेज के ठेकेदार) के प्रबंध निदेशक के साथ अपनी बैठक में श्री शर्मा ने सभी मुद्दों को हल करने और अप्रैल, 2023 तक
परियोजना को कमीशनिंग करने में तेजी लाने के निर्देश दिए।
उन्होंने परियोजना के दोनों प्रमुख सिविल कार्य पैकेजों की भी समीक्षा की।  बांध स्थल पर मैसर्स जेएएल के साथ भी एक बैठक
आयोजित की गई, जहां श्री शर्मा ने सिविल ठेकेदार से बांध एवं एचआरटी के काम में तेजी लाने के लिए कहा ताकि
परियोजना को निर्धारित समय के अनुसार पूरा किया जा सके।
श्री नंद लाल शर्मा ने एसजेवीएन की आगामी परियोजनाओं से बिजली की निकासी के लिए एसजेवीएन द्वारा कार्यान्वित की जा
रही 400 केवी ट्रांसमिशन लाइन की प्रगति की भी समीक्षा की।
उन्होंने मैसर्स पीजीसीआईएल, मैसर्स केईसी (टॉवर पैकेज ठेकेदार(, मैसर्स जीई(सब-स्‍टेशन पैकेज ठेकेदार) और मैसर्स
एपीएआर (कंडक्‍टर पैकेज ठेकेदार) के प्रतिनिधियों के साथ भी बैठक की।  श्री शर्मा ने मैसर्स केईसी को टॉवर पैकेज से
संबंधित गतिविधियों में तेजी लाने का निर्देश दिया, ताकि इसे जनरेशन कंपोनेंट 900 मेगावाट अरुण 3 एचईपी के कमीशनिंग
शेड्यूल के साथ जोड़ा जा सके।  मैसर्स केईसी, मैसर्स जीई और मैसर्स एपीएआर के प्रतिनिधियों ने अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक को
अप्रैल,2023 के कमीशनिंग शेड्यूल से मेल खाने के लिए लक्ष्यों को पूरा करने का आश्वासन दिया।
श्री नंद लाल शर्मा ने नेपाल में 900 मेगावाट की अरुण-3 जलविद्युत परियोजना के अन्य घटकों के कार्यों की प्रगति का भी
निरीक्षण किया।  उन्होंने पावर हाउस के कार्यों, सर्ज शाफ्ट के निर्माण और हेड रेस टनल का निरीक्षण किया।  उन्होंने बांध स्थल
के कार्यों का भी निरीक्षण किया।