Thu. May 30th, 2024

एसजेवीएन द्वारा आज शक्ति सदन, कारपोरेट मुख्यालय, शिमला में विशेष टीकाकरण अभियान का सफल आयोजन किया
गया, जिसमें 500 व्यक्तियों को वैक्सीन का टीका लगाया गया। लाभान्वित व्यक्तियों में एसजेवीएन के कर्मचारी, विभिन्न
ठेकेदारों द्वारा तैनात किए गए कांट्रेक्चुअल वर्कर्स, सुरक्षाकर्मी एवं स्टाफ, उनके परिवारों के पात्र व्यक्ति तथा आसपास के
लोग शामिल हैं। यह संख्या उन 1700 व्यक्तियों के अतिरिक्त है, जिन्हें एसजेवीएन शिमला में तीन दिवसीय विशेष
टीकाकरण अभियान के दौरान हाल ही में टीका लगाया गया था।
इस अवसर पर बोलते हुए एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नन्‍द लाल शर्मा ने कहा कि विशेष टीकाकरण
अभियान से कोविड महामारी के तीव्रता से उन्मूलन में मदद मिलेगी। हमारी प्राथमिकता हमारे कर्मचारियों, उनके परिजन
तथा हम से जुड़े व्यक्तियों की सुरक्षा तथा जितना जल्दी हो सके उनका टीकाकरण करने की है।
उक्त उद्देश्य के अनुसार 412 मेगावाट रामपुर जल विद्युत परियोजना में 16 एवं 17 जून, 2021, 1500 मेगावाट नाथपा
झाकड़ी जल विद्युत स्टेशन में 18 एवं 19 जून,2021 को विशेष टीकाकरण अभियान चलाने की योजना है, जिनमें दोनों
जगह लगभग 3000 व्यक्तियों को वैक्सीन का टीका लगाए जाने की संभावना है। हमीरपुर स्थित धौलासिद्ध जल विद्युत
परियोजना में भी जल्द ही टीकाकरण कैंप लगाए जाने की योजना है, जिसमें 200 व्यक्तियों को टीका लगाए जाने की
संभावना है।
इस विशेष टीकाकरण अभियान का आयोजन फोर्टिस हेल्थकेयर, मोहाली के सहयोग से किया जा रहा है। एसजेवीएन
परियोजना अस्पतालों के डॉक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ भी इस टीकाकरण अभियान के सफल आयोजन में सक्रिय रूप
से जुड़े रहे हैं।
एसजेवीएन एक परिचय
भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रणाधीन भारत सरकार एवं हिमाचल प्रदेश सरकार के एक संयुक्‍त
उपक्रम के रूप में एक मिनी रत्‍नः श्रेणी-I एवं शेड्यूल-'ए' सीपीएसई के तौर पर एसजेवीएन लिमिटेड की स्‍थापना 24
मई,1988 को हुई थीI एसजेवीएन अब एक सूचीबद्ध कंपनी है जिसमें भारत सरकार के पास 59.92 प्रतिशत, हिमाचल
प्रदेश सरकार के पास 26.85 प्रतिशत तथा शेष 13.23 प्रतिशत शेयर होल्डिंग जनता के पास हैI एकल परियोजना तथा
एकल राज्‍य प्रचालन (यथा हिमाचल प्रदेश में भारत का सबसे बड़ा 1500 मेगावाट नाथपा झाकड़ी जलविद्युत स्‍टेशन
(एनजेएचपीएस)) से शुरू करके कंपनी के पास वर्तमान में भारत में हिमाचल प्रदेश, उत्‍तराखंड, बिहार महाराष्‍ट्र तथा
गुजरात के अलावा पड़ोसी देशों यानि नेपाल एवं भूटान में कुल 2016.5 मेगावाट की कुल स्‍थापित क्षमता की 7
परियोजना परियोजनाएं तथा 86 कि.मी. 400 केवी की ट्रांसमिशन लाईन कमीशन की हैंI एसजेवीएन वर्तमान में हिमाचल
प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, महाराष्ट्र और गुजरात के अलावा नेपाल और भूटान के पड़ोसी देशों में विद्युत परियोजनाओं का
निर्माण कर रहा है।

——————