Tue. Jun 25th, 2024

ऐतिहासिक गांव मलाणा में भीष्म अग्निकांड, 16 मकान जलकर राख, 150 लोग हुए प्रभावित-डी.सी.

कुल्लू 27 अक्तूबर। उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात लगभग एक बजे कुल्लू उपमण्डल के ऐतिहासिक गांव मलाणा के धाराबेहड़ में एक मकान में अचानक आग लगने की सूचना प्राप्त हुई। स्थानीय लोगों के अनुसार देखते ही देखते आग साथ लगते अन्य मकानों में फैल गई। इस घटना में 16 मकान जलकर राख होग और 150 लोग प्रभावित हुए हैं। प्रारंभिक आंकलन के अनुसार इस अग्निकाण्ड में लगभग नौ करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।
उपायुक्त ने बताया कि रात्रि 1.30 बजे आगजनी की सूचना मिलते ही तुरंत से अग्निशमन विभाग व पुलिस बलों को घटना स्थल के लिए रवाना किया गया। चुंकि मलाणा गांव के लिए लगभग एक घण्टे का पैदल रास्ता है। इसके बावजूद फायर उपकरण व अन्य राहत सामग्री को स्पैन के माध्यम से प्रातः पौने चार बजे तक गांव में पहुंचाया गया। अग्निशमन विभाग ने प्रवाह जलस्त्रोत से पानी एकत्र करके इसे पाईपों के माध्यम से घटना स्थल पर उपयोग में लाकर पूरी तरह से आग पर काबू पा लिया। स्थानीय लोगों ने आग बुझाने का बहुत प्रयास किया, लेकिन सभी मकान लकड़ी के बने थे और रिहायशी मकानों के समीप ही पशुचारा इत्यादि का भी भण्डारण किया गया था जिसके चलते अधिक नुकसान हो गया। उन्होंने कहा कि प्राप्त सूचना के अनुसार जिस घर से आग शुरू हुई उसमें कोई व्यक्ति भी मौजूद नहीं था।
आशुतोष गर्ग ने बताया कि राहत व बचाव कार्यों का जायजा लेने के लिय वह स्वयं पुुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा, एसडीएम विकास शुक्ला व राजस्व अधिकारियों के साथ प्रातःकाल मलाणा गांव पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रभावित परिवारों को फौरी राहत प्रदान की जा रही है।
.00.