Thu. May 30th, 2024

कार्गिल शहीदों को समर्पित होगा गुलाबा नेचर पार्क: गोविंद ठाकुर
एनजीटी शर्तों के तहत निर्माण परियोजनाओं की समीक्षा बैठक दी जानकारी

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) की शर्तों के मद्देनजर मनाली-रोहतांग पास राष्ट्रीय मार्ग पर चल रहे विभिन्न विकास कार्याें पर आज यहां परिधि गृह में वन, परिवहन एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर की अध्यक्षता में जिला अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि कोविड संक्रमण के चलते लाॅकडाउन में आर्थिक गतिविधियों के साथ-साथ जिला की विकासात्मक परियोजनाओं का निर्माणकार्य भी बहुत प्रभावित हुआ है, इसलिए अब अधिकारी आपसी समन्वय से एक टीम की तरह कार्य करके सभी परियोजनाओं को समय पर पूर्ण करने का प्रयास करें।
रोहतांग सुरंग के खुलने पर जिला में पर्यटकों की संख्या में होने वाली वृद्धि की संभावना के मद्देनजर अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे में प्रशासन एनजीटी की शर्तों के अनुसार ठोस कूड़ा-कचरा प्रबन्धन एवं अन्य साफ-सफाई की व्यवस्थाओं के विस्तार-कार्यों में तेजी लाएं।
वन मंत्री ने कहा कि इन दिनों लोगों की आवाजाही में बहुत कमी है, अतः मढ़ी में निर्मित होने जा रहे एक हजार वाहनों की क्षमता वाले पार्किंग स्थल में डिसमेंटल कार्य को तुरन्त प्रभाव से कर लिया जाए और अगस्त माह में निर्माण कार्य शुरू करना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि संभव हो तो कार्य स्थल से निकले पत्थर इत्यादि को पार्किंग के निर्माण में उपयोग में लाया जाए ताकि किसी भी तरह पर्यावरण को क्षति न हो। उन्होंने कहा कि इलैक्ट्रिकल वाहनों की आवाजाही प्रभावित न हो, इसके लिए मढ़ी में भी एक इलैक्ट्रिकल चार्जड स्टेशन के निर्माण हेतु शीघ्र डीपीआर तैयार करने के निर्देश दिये ताकि मनाली में स्थापित चार्जड स्टेशन पर अधिक बोझ न पड़े। इसके अलावा मढ़ी में पार्किंग स्थल की क्षमता को देखते हुए पर्याप्त शौचालयों का निर्माण भी सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने जानकारी दी कि 300 वाहनों की क्षमता वाले गुलाबा पार्किंग स्थल का लगलग 90 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है तथा शेष को शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने यहां भी पर्याप्त संख्या में शौचालयों निर्मित करने के निर्देश दिये।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि 35 टन क्षमता वाले ठोस कूड़ा-कचरा प्रबन्धन हेतू हाइड्रो इलैक्ट्रिकल ट्रीटमेंट प्लांट मढ़ी के निर्माण-कार्य में तेजी लाई जाए और ठेकेदार को शीघ्र ही मनीशनरी स्थापित करने के लिए कहा जाए। इसके अलावा पर्यटन अधिकारियों को भू-स्थानांतरण से सम्बन्धित अभिलेखों को भी आगामी बैठक में प्रस्तुत करने के निर्देश दिये ताकि निर्माण में किसी भी प्रकार का कानूनी विवाद से बचा जा सके।
वन मंत्री ने कहा कि यह सड़क-मार्ग सीमा सुरक्षा बलों की आवाजाही हेतु अति महत्वपूर्ण है, इसलिए गुलाबा नेचर पार्क कार्गिल शहीदों को समर्पित होगा। 12 हेक्टेयर क्षेत्र में निर्मित होने वाले इस नेचर पार्क का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि इस पार्क के प्राकृतिक स्वरूप को ही विकसित किया जाएगा।
गोविंद ठाकुर ने कहा कि गत चार माह से विकासकार्य बहुत प्रभावित हुए है, ऐसे अब प्रशासनिक अमले का स्पीडअप होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए मुख्ययंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से लोगों से रू-ब-रु हो रहे हैं तथा आॅनलाइन ही उद्घाटन व शिलान्यास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी ग्रामीणों तक अपनी पहंुच को सुनिश्चित कर स्थानीय स्तर की समस्याओं को सुनें व उनका निदान करें।
ये रहे उपस्थित
बैठक में उपायुक्त डाॅ. ऋचा वर्मा, एडीएम एसके पराशर, एसडीएम मनाली रमन घरसंगी, एसई विद्युत संजय कौशल, अधिशाषी अभियतां यांत्रिक लोक निर्माण जीएल ठाकुर, एई लोक निर्माण मनाली पवन राणा, आरटीओ अमित गुलेरिया, अरण्यपाल अनिल कुमार शर्मा, ईओ एमसी मनाली नारायण सिंह वर्मा के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे