Tue. May 28th, 2024

सरकाघाट, 31 जुलाई। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रवि मलिमथ ने शनिवार को सरकाघाट में अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र न्यायालय का उद्घाटन किया।
संयुक्त कार्यालय भवन में स्थापित इस न्यायालय से सरकाघाट और धर्मपुर क्षेत्र की 109 पंचायतों के लगभग 2.17 लाख लोगों को न्यायिक सुविधा प्राप्त होगी।
लोकार्पण के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में न्यायमूर्ति रवि मलिमथ ने कहा कि प्रदेश उच्च न्यायालय लोगों को उनके घर-द्वार के समीप तीव्र एवं किफायती न्याय सुनिश्चित बनाने के लिए समर्पित प्रयास कर रहा है। जनता के लिए न्याय व्यवस्था को अधिक सुगम और सुलभ बनाने के लिए प्रभावी कदम उठाए गए हैं।
उन्होंने न्यायिक प्रकिया को अधिक जनमुखी बनाने के लिए बार एसोसिएशन और न्यायाधीशों के मिलकर काम करने की ज़रूरत को रेखांकित किया।
उन्होंने नए कोर्ट के लिए बधाई देते हुए सभी सम्बंधित न्यायिक अधिकारियों और बार एसोसिएशन से इसे लेकर अपनी जिम्मेदारी समझने और गुणात्मक काम करने को कहा।
प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर ने क्षेत्र के लोगों को अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र कोर्ट मिलने पर बधाई दी।
उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों को सरकाघाट में अलग से एक न्यायिक परिसर बनाने की सम्भावनाएं तलाशने को कहा ताकि न्यायिक प्रक्रिया से जुड़ी सारी व्यवस्था एक ही जगह पर उपलब्ध हो सके।उन्होंने ज़िला प्रशासन से लम्बित राजस्व मामलों के शीघ्र निपटारे को भी कहा। कार्यक्रम में प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति विवेक सिंह ठाकुर ने न्यायिक अधिकारियों और वकीलों से लोगों को तीव्र गति से न्याय प्रदान करने के लिए मिलकर काम का आग्रह किया।
उन्होंने कहा कि अभी तक क्षेत्र के लोगों को न्याय प्राप्त करने के लिए मंडी तक का सफर तय करना पड़ता था जिससे लोगों को कई तरह की दिक्कतें होती थीं। इस कोर्ट के खुलने से ऐसे सभी लोगों को सहुलियत होगी।
प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति सत्येन वैद्य ने विश्वास जताया कि यह न्यायालय न्यायिक व्यवस्था को मजबूत बनाने में बड़ा सहायक होगा।
इस मौके विधायक कर्नल इंद्र सिंह ने कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।बार एसोसिएशन सरकाघाट के प्रधान भूप सिंह ठाकुर व अन्य पदधिकारियों ने भी उन्हें सम्मानित किया।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश मंडी आर.के. शर्मा ने इस अवसर पर कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश और अन्य गणमान्यों का स्वागत किया।
सरकाघाट बार एसोसिएशन के वरिष्ठ सदस्य अधिवक्ता पी.एस.तपवाल ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
कार्यक्रम में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की धर्मपत्नी स्वरूपा मलिमथ व पुत्री संब्रह्म मलिमथ, सरकाघाट के विधायक कर्नल इंद्र सिंह,जिला एवं सत्र न्यायाधीश मंडी आर.के.शर्मा,
सरकाघाट के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश जिया लाल आजाद, नगर परिषद सरकाघाट की अध्यक्ष अनूप कुमारी, उपायुक्त अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री,
अतिरिक्त महाधिवक्ता नरेंद्र गुलरिया, जिला न्यायवादी कुलभूषण गौतम, एसडीएम सरकाघाट राहुल जैन, बार एसोसिएशन सरकाघाट के प्रधान भूप सिंह ठाकुर, बार एसोसिएशन मंडी के प्रधान नीरज कपूर, बार एसोसिएशन सरकाघाट की उपाध्यक्ष वर्षा ठाकुर,सचिव विदेश पालसरा सहित अन्य अधिवक्ता एवं न्यायिक व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।