Thu. Apr 25th, 2024
            NWES REPOTER  RITU SHARMA   भाषा, कला एवं संस्कृति मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने आज यहां कुल्लू घाटी को यूनेस्को विश्व धरोहर के रूप में मनोनित करवाने के लिए एच.बी.टैक टीम के साथ बैठक की अध्यक्षता की।
उन्होंने कहा कि कुल्लू घाटी की काष्ठकुणी भवन शैली, ग्राम देवताओं की विशिष्ट परम्परा तथा इसका अदभूत प्राकृतिक सौन्दर्य कुछ ऐसी विशिष्टताएं हैं जिनके आधार पर कुल्लू घाटी को विश्व धरोहर के रूप में प्रस्तुत किया जा सकता है। बैठक में निर्णय लिया गया कि शीघ्र ही इस बारे में एक विस्तृत प्रस्तावना तैयार कर प्रदेश सरकार को सौंपी जाएगी।
बैठक में एच.बी. टैक टीम की ओर से एक प्रस्तुति भी दी गई।
निदेशक भाषा एवं संस्कृति विभाग डाॅ. पंकज ललित तथा एच.बी. टैक टीम की ओर से भृगु आचार्य तथा अक्षत इस बैठक में उपस्थित थे।
.0.