Tue. Jun 25th, 2024

9 जुलाई: कोरोना महामारी के दौरान संक्रमिक रोगियों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए डेडिकेटिड् कोविड् केयर सेंटर छिपनु में शिफट किए गए रोगियों को आयुर्वेद विभाग के चिकित्सक आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों के अनुरूप आयुर्वेदिक काढ़े के माध्यम से रोगियों के स्वास्थ्य में सकारात्मक सुधार ला रहे हैं।
यह जानकारी देते हुए जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. गोविन्द राम शर्मा ने बताया कि केयर सेंटर छिपनु में आयुर्वेद चिकित्सक एक-एक सप्ताह की सेवाएं देने और क्वारंटाईन अवधि पूरी करने के उपरान्त सेवा मुक्त किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह तक चिकित्सा अधिकारी डॉ. शीतल, डॉ. विकेश, आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट प्रेम सिंह, प्रताप चौहान सेवाएं देने और क्वारंटाईन उपरान्त प्रयोगशाला द्वारा प्रमाणित कोविड नेगेटिव रिपोर्ट आने के पश्चात आज छिपनु केयर सेंटर से कार्यमुक्त किए गए।
डॉ. गोविन्द ने डियूटी पर तैनात आयुर्वेद विभाग के चिकित्सकों व फार्मासिस्टों को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग का आभार व्यक्त किया।
जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश ठाकुर ने मंडी जिला के दूर दराज से डियूटी पर आए चिकित्सकों व फार्मासिस्टों का कोरोना की इस घड़ी में अपनी सेवाएं देने के लिए धन्यवाद किया।
आयुर्वेद नोडल अधिकारी डॉ. सचिन शर्मा ने आश्वासन दिलाया कि भविष्य में भी अगर कोरोना संकट में उनकी सेवाओं की आवश्यकता होगी तो उनकी टीम अपनी सेवाएं देने के लिए तैयार है