Tue. Apr 23rd, 2024

उपायुक्त ने बताया कि अप्रैल माह में जिला में कोरोना संक्रमण के 4500 नए मामले आए हैं। इनमें यह टेªंड देखने को मिल रहा है कि अब ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण के मामलों में इजाफा हो रहा है। मौजूदा समय में कोरोना संक्रमण के 61 फीसदी मामले ग्रामीण क्षेत्रों से हैं जबकि 39 प्रतिशत शहरी इलाकों के । यह आंकड़ा 15 दिन पहले लगभग 50-50 फीसदी का था। इस पूरे दौर में जिला में कोरोना मामलों में मृत्यु दर 1.27 प्रतिशत है, जो लगभग पिछले वर्ष की दर के बराबर ही है ।
ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि जिला मंडी में वर्तमान में कोरोना संक्रमण के 2251 एक्टिव मामले हैं। इनमें से 189 लोग विभिन्न कोविड अस्पतालों में उपचाराधीन हैं । कोरोना संक्रमण से ग्रसित ज्यादातर लोग घर में रह कर ही ठीक हो रहे हैं, अन्य अस्पताल में उपचार के उपरांत ठीक हो कर घर जा रहे हैं।
कोरोना के पूरे दौर में जिला मेें कोरोना से 186 लोगों की दुखद मुत्यु हुई हैं । इनमें कोरोना के पहले दौर में 125 की मृत्यु हुई जबकि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में संक्रमण से 61 लोगों की मृत्यु हुई है।
कोरोना की दूसरी लहर के दौर में जिला में संक्रमण की दर लगभग 13 फीसदी है। लेकिन यह चिंताजनक है कि पिछले हफ्ते में जिला में पॉजिटिविटी दर लगभग 30 प्रतिशत रही है। इसके मायने हैं कि पिछले सप्ताह जिला में किए गए कोरोना टैस्ट में हर तीसरा व्यक्ति संक्रमित पाया गया है ।