Sat. May 25th, 2024

एनएचपीसी, चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन ने देश का 75वां स्वतंत्रता दिवस, कोरोना प्रोटोकॉल के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सादगी से मनाया। इस अवसर पर श्री एस. के. संधु, महाप्रबंधक (प्रभारी) चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन ने झंडारोहण कर आयोजन की शुरुआत की। तदोपरांत पावर स्टेशन में तैनात केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानो द्वारा महाप्रबंधक (प्रभारी) महोदय को सलामी दी गयी। राष्ट्रगान के उपरांत श्री एस. के. संधु, महाप्रबंधक (प्रभारी), चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन ने सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी।
महाप्रबंधक (प्रभारी) महोदय ने अपने सम्बोधन में कहा कि जिस तरह हमारे स्‍वतंत्रता सेनानी आजादी के लिए लड़े थे, बैसे ही हम सब को मिलकर कोविड-19 से लड़ना है। उन्होने एनएचपीसी द्वारा सुबनसिरी परियोजना की प्रगति से अवगत करवाया। उन्होने, कोरोनाकाल में चमेरा-II पावर हाउस के 2 यूनिट जो की लगभग एक साल से अधिक समय से तकनीकी खराबी के कारण बंद थे उन्हे मरम्मती उपरांत चालू करने के लिए अथक मेहनत करने वाले, पावर स्टेशन के कार्मिकों का धन्यवाद दिया। उन्होने अपने सम्बोधन में आगे कहा कि चमेरा-II और III पावर स्टेशन स्थानीय विकास के लिए सदैव प्रतिबद्ध है इसके लिए सीएसआर के तहत किए गए एवं किए जा रहे कार्यों द्वारा लगातार चम्बा को बेहतर बनाने का प्रयास किया जा रहा है।
इस अवसर पर महाप्रबंधक (प्रभारी) महोदय ने कोरोना काल में सराहनीय कार्य करने वाले चमेरा-II व III पावर स्टेशन के कोरोना योद्धाओं डॉ. आशीष कुमार रुसिया, डॉ. प्रशांत इच्छाराम चौधरी समेत 4 पैरा-मेडिकल स्टाफ को सम्मानित किया गया। इसके अलावा चमेरा-II व III पावर स्टेशन में स्थानीय चिकित्सा प्रशासन से हर प्रकार की चिकित्सीय सहायता के लिए सदैव तत्पर रहने वाली 2 आशा वर्करों को भी सम्मानित किया गया तथा कोरोना काल में सेनेटाइजेशन द्वारा अपनी सेवाएँ देने के लिए 2 अनुबंध कर्मियों को भी इस अवसर पर सम्मानित किया गया।
स्वतंत्रता दिवस के इस अवसर पर चमेरा-II एवं III पावर स्टेशन के कार्मिकों के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ दी गईं, जिन्हे महाप्रबंधक प्रभारी महोदय द्वारा सम्मानित कर सराहा गया। कार्यक्रम में श्री अनिल कुमार, महाप्रबंधक (विद्युत), श्री के. वैदीश्वरन, महाप्रबंधक (ई व सी) तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी, महिलाएं और बच्चे सामाजिक दूरी के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए उपस्थित रहे।