Wed. Apr 24th, 2024
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिरुद्ध सिंह एवं मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा है कि विश्वासघात करने वाले नेताओं को जनता विधानसभा उपचुनाव में सबक सिखाएगी। भाजपा बागियों को कठपुतली की तरह इस्तेमाल कर रही है और धनबल से जनादेश को प्रभावित कर सत्ता पर क़ब्ज़ा करने का षड्यंत्र रचा गया। कम से कम भाजपा नेताओं को अपने वरिष्ठ नेता शांता कुमार जी की बात पर आत्मचिंतन करना चाहिए। उन्हें दिल पर हाथ रखकर पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार की बातों पर विचार करने की जरूरत है।
दोनों नेताओं ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर का सत्ता लोभ जा नहीं जा रहा है और वह सत्ता हथियाने के लिए ग़लत हथकंडे अपना रहे हैं। उन्हीं के लालच ने प्रदेश को अस्थिर करने का प्रयास किया। भाजपा दोफाड़ होने को है और पार्टी अपना कुनबा संभाल नहीं पा रही है। भाजपा के कई विधायक, पूर्व मंत्री एवं पूर्व विधायक कांग्रेस के संपर्क में हैं, जो कभी भी कांग्रेस पार्टी के साथ आ सकते हैं। भाजपा के कई नेताओं ने पार्टी से नाराज़ होकर अपना इस्तीफ़ा दे दिया है, लेकिन जयराम ठाकुर सिर्फ मुख्यमंत्री के लालच में फँसे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के बाग़ियों को टिकट मिलने से भाजपा की साज़िश हिमाचल प्रदेश की जनता के सामने आ चुकी है। प्रदेश की जनता जान चुकी है कि हिमाचल प्रदेश की चुनी हुई लोकप्रिय सरकार को गिराने का षड्यंत्र भाजपा नेताओं ने बाग़ियों के साथ मिलकर रचा। यह बात साबित हो चुकी है कि हिमाचल प्रदेश में हॉर्स ट्रेडिंग हुई। लेकिन हिमाचल प्रदेश की जनता बिकाऊ राजनीति में विश्वास नहीं रखती और एक जून को इसका करारा जवाब देगी।
अनिरुद्ध सिंह एवं सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा कि जिन बाग़ियों ने अपनी मां समान पार्टी की पीठ में छुरा घोंपा, वह कभी सच्चे जनसेवक नहीं हो सकते हैं। इन नेताओं ने अवसरवादी बनकर अपने चुनाव क्षेत्र की जनता की भावना का अपमान किया है क्योंकि मतदाताओं ने उन्हें कांग्रेस पार्टी के टिकट पर विजयी बनाया था। उन्होंने कहा कि जो पार्टी के नहीं हुए, वह जनता के कभी भी नहीं हो सकते हैं। प्रदेश की जनता के सामने उनका असली चेहरा आ चुका है। उन्होंने कहा कि स्वार्थ सिद्धि के लिए ऐसे नेता कभी भी अपने चुनाव क्षेत्र की जनता को नीलाम करने से पीछे नहीं हटेंगे, इसलिए बाग़ियों की हार निश्चित है।
दोनों नेताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू एक ईमानदार व्यक्ति हैं और सरकार बनने के बाद से ही भ्रष्टाचार के विरुद्ध सख्ती से कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश का बच्चा-बच्चा ईमानदार ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू के साथ खड़ा है और यही कांग्रेस पार्टी की ताकत है। इसी ताक़त के सहारे कांग्रेस पार्टी चुनाव में उतरेगी और लोकसभा की चारों सीटों के साथ-साथ 6 विधानसभा सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव में बड़े अंतर से विजयी होगी।