Mon. Mar 4th, 2024

REPOTER RITU SHARMA SHIMLA         उपायुक्त किन्नौर आबिद हुसैन सादिक ने आज यहां जुलाई माह में हरियाणा के सोनीपत में आयोजित राष्ट्रीय मुक्केबाजी प्रतियोगिता में पदक जीतने वाले व भाग लेने वाले प्रतिभागियों को सम्मानित किया।
जुलाई माह में आयोजित राष्ट्रीय मुक्केबाजी प्रतियोगिता में जिले से सी.एस.आर के तहत संचालित जे.एस.डब्लयू प्रशिक्षण केंद्र के 12 मुक्केबाजों ने भाग लिया था जिसमें जिले की स्नेहा कुमारी ने 66 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण, कशिश ने 48 किलोग्राम वर्ग में रजत तथा 52 किलो वर्ग में रीतू व 54 किलोग्राम वर्ग में सपना थापा ने कांस्य पदक जीते थे।
आबिद हुसैन सादिक ने इस अवसर पर 11 खिलाड़ियों जिनमें कशिश, रीतू व सपना थापा जिन्होंने रजत व कांस्य पदक जीते थे के अलावा विश्वजीत, प्रिया, अंजलि, सुनीधि, अंकित, अनीश, उपमन्यू व कोच उपेंद्र सिंह को नगद पुरूस्कार से सम्मानित किया, जबकि स्नेहा इस समय दुबई में आयोजित हो रही एशियन यूथ जूनियर बाॅक्सींग चैम्पयिनशिप में भाग ले रही है को बाद में सम्मानित किया जाएगा।
उपायुक्त ने सभी खिलाड़ियों से आग्रह किया कि वे और अधिक कठिन परिश्रम करें ताकि भविष्य में होने वाले आॅलम्पिक व एशियन गेम्ज में भाग लेकर जिला व प्रदेश का नाम रोशन कर सकें। उन्होंने कहा कि परिश्रम व कठिन परिश्रम से ही कोई भी लक्ष्य प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमे हमेशा अपना लक्ष्य बड़ा रखना चाहिए तथा इसे प्राप्त करने के लिए कठोर परिश्रम करना होगा।  उन्होंने जे.एस.डब्लयू द्वारा सी.एस.आर के तहत सांगला व उरनी में जिले के युवाओं को बाॅक्सींग प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने के प्रयासों की सराहना की तथा कहा कि सांगला स्थित शिखर प्रशिक्षण केंद्र को बाॅक्सींग खेल संबंधी सभी अंतरराष्ट्रीय स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी ताकि जिले के युवा बाॅक्सींग क्षेत्र में न केवल जिले का नाम बल्कि प्रदेश व देश का नाम भी रोशन कर सकें। उन्होंने कहा कि हमें किन्नौर जिला को बाॅक्सींग का हब के रूप में विकसित करना है।
इस अवसर पर जे.एस.डब्लयू परियोजना प्रमुख कौशिक मलिक ने कहा कि हम बाॅक्सींग खेल को अगले स्तर तक ले जाने के लिए दृढ़ संकल्पित है और वह दिन दूर नहीं जब जिले के प्रतिभावान बाॅक्सर राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बाॅक्सींग में जिले व प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।
इस अवसर पर सी.एस.आर प्रमुख दीपक डैविड व जे.एस.डब्लयू के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।