Tue. Apr 23rd, 2024

दिव्ययोग रिसर्च फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा शिमला के उपनगर न्यू टूटू स्थित दिव्य फिजियोथैरेपी सैंटर में पहली से पांच नवम्बर तक आयोजित किए गए पांच दिवसीय निशुल्क फिजियोथैरेपी कैंप में जनता ने बढ़चढ़ कर भाग लिया और स्वास्थ्य सुविधा का लाभ लिया। शिविर में उन 61 लोगों ने भाग लिया जो अर्थराइटस, घुटनांे और जोड़ों की दर्द, पार्किन्सोनिज्म, सुन्नपन, झुनझुनाहट, साईटिका, लकवा, आॅप्रेशन के बाद की समस्या आदि से पीड़ित थे। रोगी व्यक्तियों का ईलाज आधुनिक मशीनों एवम् अनुभवी फिजियोथैरेपिस्ट की देख-रेख में प्रतिदिन प्रातः 8 से दोपहर 1 बजे तक निशुल्क किया गया। 12 वर्ष के अनुभवी डा. रजत ने फिजियोथैरेपी को बिना कोई दवा लिए अनावश्यक दर्द से छुंटकारा पाने और शरीर को चुस्त-दरूस्त बनाए रखने के लिए एक अच्छा माध्यम बताया।

मनीश ठाकुर, आरती, कमलेश, विनोद, जतिन, अनिल शर्मा, अनिता देवी, जगदीश ठाकुर आदि लाभार्थियों ने दिव्य फाउंडेशन द्वारा लगाए गए इस शिविर में प्रतिदिन भाग लिया और स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया। सभी की यह इच्छा रही कि इस तरह के निशुल्क शिविरों का आयोजन भविष्य में भी किया जाए ताकि निम्न वर्ग के लोगा भी अपना निशुल्क उपचार करवा सकें।

समापन अवसर पर इनकेे मध्य दिव्य फाउंडेशन ट्रस्ट के अध्यक्ष विजयकुमार सूद ने कहा कि फाउंडेशन द्वारा लगाए गए इस शिविर में काफी लोगों ने फिजियोथैरेपी के माध्यम से लाभ प्राप्त किया। आने वाले दिनों में फाउंडेशन शिमला के विभिन्न स्थानों में निशुल्क शिविर लगाने का विचार कर रही है ताकि लोगों को उनके नजदीक फिजियोथैरेपी के बारे में उपचार और इससे संबधित परामर्श मिल सके। इसके लिए उन्होंने लोगों से भी आग्रह किया कि यदि कोई निशुल्क शिविर लगवाना चाहते हों तो वे दिव्य फाउंडेशन के कार्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सभी को अपने शरीर की अक्षमताओं की ओर विशेष ध्यान देना चाहिए और फिजियोथैरेपी के माध्यम से शरीर को चुस्त-दुरूस्त रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि निशुल्क परामर्श के लिए फाउंडेशन द्वारा हैल्पलाईन की सुविधा भी रखी गई है। रोगी और उनके अभिभावक सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक मोबाईल नम्बर 92185-38001 और 78144-33221 पर सम्पर्क कर सुविधा का लाभ ले सकते हैं।