Tue. Jun 25th, 2024

मंडी, 9 नवंबर: नाचन के विधायक विनोद कुमार ने कहा कि ज्यूणी घाटी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने पर जोर दिया जा रहा है। इससे क्षेत्र के युवाओं को रोगजार के नए अवसर मिलेंगे। इसी मकसद से देवीदड़ में पर्यटन विकास कार्य किए जा रहा है। पर्यटकों के ठहरने की अच्छी व्यवस्था के लिए तुना क्षेत्र में विश्राम गृह बनाए जा रहे हैं। इस कार्य पर 1.60 करोड़ एक रुपये खर्चे जाएंगे।
विनोद कुमार ने यह बात तुना गांव में विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करने के उपरांत कही। उन्होंने 18 लाख रुपये से वन परिक्षेत्राधिकारी कार्यालय, मच्छरोट व जहल में 15-15 लाख रुपये से वन कुटीर और तुना में 28 लाख रुपये से बनने वाले पुल का शिलान्यास किया।
उन्होंने कहा कि कोट-देवीदड़ सड़क की टायरिंग का कार्य प्रगति पर है। इस पर 2.70 करोड़ रुपये खर्चे जा रहे हैं। नाचन वन मण्डल में 6 नए वन कुटीर बनाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि वन विभाग के सहयोग से मझारन में 25 लाख रूपये से पैदल पुल, छपराहन में 15 लाख रुपये से वन कुटीर, देवीदड़ में 50 इंस्पेक्शन हट, देवीदड़ में वन विभाग के विश्राम गृह का कार्य प्रगति पर है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर के आशीर्वाद से नाचन विधानसभा क्षेत्र के सर्वांगीण विकास के लिए योजनाबद्ध कार्य किया जा रहा है।
विधायक ने इस अवसर पर आत्मा परियोजना के अन्तर्गत 205 किसानों को मटर के बीज वितरित किए।
इस अवसर पर वनमण्डलाधिकारी तीर्थ राज धीमान ने विभाग द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों की जानकारी दी।उन्होंने कहा कि नाचन वनमण्डल में 1984 के बाद वन कुटीर व आवासों का जीर्णोद्वार किया जा रहा है। इसके लिए सरकार द्वारा पर्याप्त बजट उपलब्ध करवाया जा रहा है।
इस कार्यक्रम में भाजपा मण्डल महामंत्री मुकेश चन्देल, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य वेद प्रकाश शर्मा, जिला महामंत्री हुकम सिंह, ग्राम पंचायत तुना की प्रधान धर्मी देवी, उप प्रधान चुनी लाल, एसडीएम गोहर अनिल भारद्वाज, जल शक्ति विभाग के सहायक अभियन्ता नूर अहमद, कनिष्ठ अभियन्ता धर्मेंद्र कुमार सहित अन्य लोग उपस्थित थे।