Sat. Mar 2nd, 2024

नशे के खिलाफ लड़ाई को जन आंदोलन बनाने में महिलाओं की भूमिका महत्वपूर्ण- शालिनी अग्निहोत्री
जनेड़ में जागरूकता शिविर का आयोजन
मण्डी 11 फरवरी : पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश में नशे के खिलाफ लड़ाई को जन आंदोलन बनाने में महिलाओं की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने महिलाओं व युवाओं से नशे के खिलाफ लड़ाई में सक्रिय सहयोगी बनने का आग्रह किया । वे विकास खंड सदर की ग्राम पंचायत जनेड़ के गांव मदलोग में गुरुवार को आयोजित एक दिवसीय जागरूकता शिविर की अध्यक्षता करते हुए बोल रही थीं।
उन्होंने उपस्थित महिला एवं युवक मंडलों को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाएं नशे की बुराईयों को दूर करने के लिए अहम् भूमिका निभा सकती हैं। नशे जैसी बुराई को जड़ से समाप्त करने के लिए सबसे पहले हमें अपने घर को ही सुधारना होगा ।
उन्होंने कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है जो हमारे समाज को खोखला कर रही है । आज युवा वर्ग भी इसके चपेट में आ रहा है । उन्होंने महिला एवं युवक मंडलों को इस पर अंकुश लगाने के लिए जन जागरण अभियान चलाने का आह्वान किया । उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे नशा मुक्त समाज के निर्माण के लिए प्रदेश सरकार द्वारा छेड़े गए नशा निवारण अभियान को सफल बनाने में योगदान दें।
शिविर में महिला मंडल सराये, पतरौण, अलाथू, मदलोग, धारंडा, रंधाड़ा, रत्ती पुल तथा युवक मंडल जनेड़ के 120 महिला व युवकों ने भाग लिया ।
इसके बाद पुलिस अधीक्षक ने वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला रंधाड़ा में भी जागरूकता शिविर की अध्यक्षता की तथा युवाओं से नशे से दूर रहने का आह्वान किया ।
इस मौके रंधाड़ा पंचायत की प्रधान कृष्णा देवी तथा समाज सेवी हरीश चंद्र शर्मा ने पुलिस अधीक्षक का स्वागत किया ।