Mon. Mar 27th, 2023

पेड न्यूज और चुनावी विज्ञापनों पर निर्वाचन आयोग की पैनी नजर, चौबीसों घंटे प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया की निगरानी कर रही ‘एमसीएमसी’

Byhimachalnews

Oct 19, 2021 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

मंडी, 19 अक्तूबर। मंडी लोकसभा उपचुनाव के चलते निर्वाचन आयोग की पेड न्यूज, चुनावी विज्ञापनों एवं आम लोगों को दिगभ्रमित करने वाले समाचारों पर पैनी नजर है। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मंडी में गठित  मीडिया प्रमाणीकरण एंव निगरानी समिति (मीडिया सर्टीफिकेशन एंड मॉनीटरिंग कमेटी ‘एमसीएमसी’) चौबीसों घंटे प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया की निगरानी कर रही है। एमसीएमसी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी ने मंगलवार को एमसीएमसी की एक बैठक के उपरांत यह बात कही।
बता दें, डीसी की अध्यक्षता में बनाई गई इस कमेटी में एडीसी मंडी, डीपीआरओ समेत अन्य अधिकारी एवं वरिष्ठ पत्रकार शामिल हैं। 24 घंटे टीवी, सोशल और प्रिंट मीडिया पर नजर रखने के लिए करीब 15 कर्मचारी उपायुक्त कार्यालय भवन में स्थापित एमसीएमसी सैल में डियूटी पर तैनात हैं। कमेटी के सदस्य शिफ्टों में ड्यूटी कर रहे हैं।