Tue. Jun 25th, 2024

मंडी, 9 अक्तूबर: जिला में कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए किए जा रहे उपायों बारे जल शक्ति, राजस्व, बागवानी व सैनिक कल्याण मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की गई।
महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में मुख्यमंत्री द्वारा मंत्रियों को निर्देश दिए गए हैं कि सम्बन्धित जिलोें में कोरोना महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन के साथ बैठकें कर इस महामारी के प्रति ठोस कदम उठाएं।
उन्होंने कहा कि जिला में अभी तक 32 हजार 108 कोरोना संक्रमण के परीक्षण किए जा चुके हैं। जिसमें वर्तमान में 1997 पॉजीटिव व 580 एक्टिव, होम आईसोलेशन में 525 के अलावा जिला में 7 डेडिकेटिड कोविड केयर सैंटरों में सिर्फ सदयाणा में 13, थुनाग में 3, नेरचौक मेडिकल कॉलेज में 25 रोगी है। जिला में गम्भीर रोगों से पीड़ित 28 लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हुई है। जिला में 31 चिकित्सक को मिलाकर पैरा मैडिकल के लगभग 125 व्यक्ति पॉजीटिव आए थे जिनमें से 114 ठीक हो चुके हैं।
महेन्द्र सिंह ठाकुर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में गम्भीर रोगों से पीड़ित लोगों को चिन्हित करें। यदि इन पीड़ितों में कोई संक्रमण के लक्षण नजर आएं तो उसकी सूचना तुरन्त स्वास्थ्य विभाग को दें।
उन्होंने जन साधारण से अपील की कि कोरोना संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है इसलिए सार्वजनिक स्थलों पर मॉस्क् का प्रयोग अवश्य करें, सामाजिक दूरी बनाए रखें, समय समय पर अपने हाथ अच्छी तरह से धोते रहें। किसी भी प्रकार के बुखार, खांसी जुकाम इत्यादि के लक्षण होने पर तुरन्त स्वास्थ्य विभाग को सम्पर्क करें।
उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को मात देने के लिए सम्बन्धित विभाग बेहतर तालमेल से कार्य करें ताकि जिला को शीघ्र कोरोना मुक्त किया जा सके। उन्होंने इस मौके पर कोरोना वारियर्स की भूमिका की सराहना की।
उन्होंने मैडिकल कॉलेज नेरचौक में न्यूरो सर्जरी, कार्डियलजी, नेफ्रोलोजी आदि की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए कॉलेज प्रबन्धन को प्रारूप तैयार कर शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने जिला में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए किए जा रहे कारगर उपायों बारे विस्तार से रिपोर्ट प्रस्तुत की ।
नेरचौक मैडिकल कालेज के प्राचार्य आर.सी.ठाकुर ने अवगत करवाया कि कालेज में चिकित्सकों, नर्सों और अन्य स्टॉफ के 108 पदों को भरने का आग्रह किया। उन्होंने कालेज में कोरोना सकं्रमण से ठीक हुए रोगियों के डिस्चार्ज होने पर उन्हें एम्बुलैंस सुविधा उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया।
बैठक में द्रंग विधान सभा क्षेत्र के विधायक जवाहर ठाकुर, अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट श्रवण मांटा, समस्त उपमण्डलाधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. देवेन्द्र शर्मा, मैडिकल अधीक्षक जीवानन्द चौहान, डी.एस.ठाकुर, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. दिनेश, राजस्व अधिकारी राजीव सांख्यान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।