Sun. Jun 16th, 2024

अगस्त: जल शक्ति, राजस्व, बागवानी व सैनिक कल्याण मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने आज यहां मंडी जिला प्रशासन द्वारा राजस्व कार्यों के सरलीकरण व डिजिटलीकरण के लिए तैयार नवीन पोर्टल और सॉफ्टवेयर का शुभारंभ किया।
उन्होंने म्यूटेशन मोडयूल मंडी जन सुविधा पोर्टल के ‘म्यूटेशन मॉडयूल’ और ई-रोजनामचा सॉफ्टवेयर की शुरूआत की।
महेंद्र सिंह ठाकुर ने राजस्व विभाग के कामकाज व प्रक्रिया को सरल व पारदर्शी बनाने के लिए तकनीक के सदुपयोग के जिला प्रशासन के प्रयासों की सराहना की।
ये हैं म्यूटेशन मॉडयूल के फायदे
म्यूटेशन मॉडयूल से मंडी की जनता को ऑनलाईन इंतकाल तस्दीक करवाने की सुविधा मिलेगी। कोई भी व्यक्ति www.mandijansuvidha.in/mutaion पर अपने किसी इंतकाल के लिए ऑनलाईन समय मांग सकता है। सम्बन्धित तहसीलदार व नायब तहसीलदार जैसे ही इंतकाल के लिए समय निर्धारित करेंगें उसकी सूचना एसएमएस के जरिए आवेदनकर्ता व अन्य पक्षों को चली जाएगी। यदि किसी कारण से राजस्व अधिकारी का दौरा रदद होता है तो इसकी सूचना भी एसएमएस के जरिए सभी पक्षों को स्वतः ही चली जाएगी।
मंत्री ने जिले की समस्त जनता से इस सुविधा का भरपूर लाभ उठाने का आग्रह किया।
इस मौके पर उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि मंडी में जनता की सुविधा के लिए जून महीने में जन सुविधा पोर्टल का ‘पंजीकरण मॉडयूल’ शुरू किया गया था, जिसके तहत अब तक जनता ने 4750 स्लॉट्स पंजीकरण के लिए प्रयोग किए हैं।
दूसरे चरण में ‘म्यूटेशन मॉडयूल’ के शुभारंभ के बाद अब तीसरे चरण में जन सुविधा के ‘निशानदेही मोडयूल’ को शुरू किया जाएगा