Tue. Jun 25th, 2024

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज धर्मशाला में राज्य भाजपा कार्यकारी समिति की बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने समाज के हर वर्ग के कल्याण और हर क्षेत्र के विकास के लिए लगभग पचास नई योजनाएं शुरू की हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी ने विश्व अर्थव्यवस्था को प्रभावित करने के साथ-साथ भाजपा के संगठनात्मक कार्यों को भी प्रभावित किया। अब जमीनी स्तर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए अधिक समर्पण के साथ काम करने के लिए कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लोकसभा, विधानसभा उप-चुनाव और पंचायती राज संस्थानों एवं स्थानीय शहरी निकायों के चुनावों में भाजपा समर्थित उम्मीदवारों की जीत पार्टी कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत और समर्पण के कारण संभव हो पाई।

जय राम ठाकुर ने कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिजिटल इंडिया अवधारणा कोविड-19 के कारण लाॅकडाउन के दौरान एक आशीर्वाद के रूप में आई थी। उन्होंने कहा कि वर्चुअल माध्यम से बैठकों के माध्यम से सभी निर्णय व रणनीतियां निर्धारित की गईं। सरकार और पार्टी ने पार्टी कार्यकर्ताओं, लाभार्थियों और आम आदमी तक पहुंचने के लिए प्रौद्योगिकी का प्रभावी उपयोग सुनिश्चित किया है। पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता ने सुनिश्चित किया कि देश के साथ-साथ राज्य को भी लाॅकडाउन के दौरान हर संभव मदद मिले। जरूरतमंदों को लाखों फेस मास्क, खाद्य किट और सैनिटाइजर वितरित किए गए। उन्होंने महामारी के दौरान लोगों को फेस मास्क तैयार करने और वितरित करने में भाजपा महिला मोर्चा की भूमिका की भी सराहना की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब देश में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था तब एक भी पीपीई किट तैयार नहीं थी। आज देश में प्रतिदिन 5 लाख पीपीई किट तैयार किए जा रहे हैं और भारत कई देशों को निर्यात कर रहा है। इसी तरह, हिमाचल प्रदेश में केवल 50 वेंटिलेटर थे जबकि आज 600 से अधिक वेंटिलेटर हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोविड-19 महामारी के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे 2.50 लाख से अधिक हिमाचलियों को वापस लाई। भाजपा कार्यकर्ताओं ने महामारी के दौरान लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए समर्पण के साथ अथक प्रयास किए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में विपक्ष दिशाहीन, नेताविहीन और मुद्दाहीन राजनीतिक दल है। कांग्रेस नेता राजनीतिक रूप से जीवित रहने के लिए राज्य सरकार के खिलाफ मुद्दा खोजने की कोशिश कर रहे हैं। यहां तक कि प्रदेश के कांग्रेस नेताओं ने अपनी पार्टी को भी नहीं छोड़ा और उच्च कमान के समक्ष 12 करोड़ रुपये का बिल भेजा जिसमें दावा किया गया कि इस राशि को पार्टी ने कोरोना महामारी के दौरान जरूरतमंदों की मदद करने के लिए खर्च किया।

उन्होंने कहा कि हिमाचल माॅडल की आज प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष द्वारा भी सराहना की जा रही है। पन्ना प्रमुख सम्मेलन, त्रिदेव सम्मेलन जैसी पहल कई राज्यों में अन्य भाजपा संगठनों द्वारा की जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के लोगों ने राज्य सरकार को अपना पूरा समर्थन दिया है और पिछले तीन वर्षों से राज्य में हुए सभी चुनावों में भाजपा उम्मीदवारों की शानदार जीत सुनिश्चित की। जीत का सिलसिला आने वाले वर्षों तक जारी रहना चाहिए। यह पहली बार है कि राज्य सरकार ने राज्य का बेहतर विकास सुनिश्चित करने के लिए तीन नए नगर निगम और 389 पंचायतें बनाईं हैं। कांग्रेस सरकार ने धर्मशाला में केवल एक नगर निगम बनाया, लेकिन वर्तमान राज्य सरकार ने पालमपुर, सोलन और मंडी में नगर निगम बनाए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि महामारी के दौरान भी राज्य में विकास की गति निर्बाध रूप से चलती रहे। उन्होंने स्वयं राज्य के लगभग 42 विधानसभा क्षेत्रों में 3500 करोड़ रुपये के शिलान्यास और उद्घाटन वर्चुअल माध्यम से किए। टीकाकरण के पहले चरण में राज्य 93,000 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करने वाला है। उन्होंने महामारी के दौरान केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तुत बजट को संतुलित बजट करार देकर इसकी सराहना की। उन्होंने राज्य को 450 करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार का धन्यवाद किया। उन्होंने ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट मंडी के लिए 1000 करोड़ रुपये और कांगड़ा जिले में गग्गल हवाई अड्डे के विस्तार के लिए 400 करोड़ रुपये की सिफारिश करने के लिए वित्त आयोग का भी धन्यवाद किया।

मुख्यमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि भाजपा सरकार 2022 के विधानसभा चुनावों में फिर से सत्ता में आए। उन्होंने कहा कि जन मंच और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1100 लोगों की शिकायतों के निवारण के लिए वरदान साबित कर रहे हैं। गृहिणी सुविधा योजना ने 2.91 लाख परिवारों को लाभान्वित किया है और हिम केयर ने लगभग 150 करोड़ रुपये खर्च करके लोगों को स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं प्रदान की हैं। आयुष्मान भारत के तहत 81,292 लाभार्थी लाभान्वित हुए हैं। शहरी गरीबों को रोजगार मुहैया कराने के लिए मुख्यमंत्री शहरी रोजगार गारंटी योजना शुरू की गई। उन्होंने कहा कि किसान विधेयक किसानों के कल्याण और बेहतरी के उद्देश्य से है।

जय राम ठाकुर ने पार्टी पदाधिकारियों से केंद्र और राज्य सरकारों की नीतियों और कार्यक्रमों के प्रसार के लिए सोशल मीडिया का प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सबसे पहले ई-बजट और ई-कैबिनेट की शुरूआत की। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से राज्य के स्वर्ण जयंती वर्ष समारोह को एक शानदार सफलता बनाने के लिए अपना पूरा समर्थन देने का आग्रह किया।

केंद्रीय वित्त एवं कार्पाेरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, राज्य भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना, सह-प्रभारी संजय टंडन, भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप, सांसद किशन कपूर और इंदु गोस्वामी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डा. राजीव बिंदल, संगठन सचिव पवन राणा, राज्य भाजपा महासचिव त्रिलोक जम्वाल एवं राकेश जम्वाल, अध्यक्ष वूलफैड त्रिलोक कपूर, विधायकगण, विभिन्न बोर्डों और निगमों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष, भाजपा के विभिन्न फ्रंटल संगठनों के अध्यक्ष इस अवसा पर उपस्थित थे।

.0.