Wed. Apr 24th, 2024

जलशक्ति एवं राजस्व मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि जन सुविधा के लिए राजस्व विभाग में व्यापक सुधार लाने के दृष्टिगत एक पत्र सभी अधिकारियों को प्रेषित किया गया है जिसमें लिखित में सुझाव मांगे गए हैं। जिसमे भू-राजस्व अधिनियम की समीक्षा व सुधार, राजस्व अधिकारियों द्वारा उर्दू लिखी जाने वाली विभिन्न रिपोर्ट को हिंदी में लिखना, भू निपटान की प्रक्रिया की समीक्षा, राजस्व रिकार्ड के पुरानी रिटेंसन पॉलिसी, जमीन हंस्तातरण की शक्तियों का सरलीकरण, सभी पटवार सर्कलों में भूमिहीन लोगों की जानकारी एकत्रित करने सहित कुल 23 बिंदुओ पर सुझाव आमंत्रित किये गए हैं।
इससे पहले जोगिन्दर नगर पहुंचने पर स्थानीय लोगों ने जलशक्ति मंत्री का जोरदार स्वागत किया तथा सामुदायिक भवन जोगिन्दर नगर में उपस्थित जन समूह को संबोधित भी किया