Tue. Jul 23rd, 2024

शिमला, 29 नवंबर उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज यहां वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज यहां वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जिला के सभी उपमंडलाधिकारियों के साथ कोविड टीकाकरण के संबंध में बैठक का आयोजन किया तथा अधिकारियों से स्थिति का जायजा लिया।
उन्होंने सभी अधिकारियों को कोविड-19 वैक्सीनेशन की दूसरी डोज के लक्ष्य को 5 दिनों के भीतर पूर्ण करने के निर्देश दिए।
उन्होंने बताया कि जिला के समस्त कार्यालयों में कार्यरत कर्मचारियों का डाटा एकत्रित कर उसका आकलन करें ताकि छूटे हुए कर्मचारियों को वैक्सीनेट किया जा सके।
उन्होंने बताया कि जिस वैक्सीनेशन केंद्र में लोग टीकाकरण करवाने नहीं पहुंच रहे हैं वहां की टीमें क्षेत्र में जाकर लोगों को वैक्सीनेट करें तथा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में घर-घर जाकर वैक्सीनेशन करवाने के भी अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त होटल एसोसिएशन, व्यापार मंडल, टैक्सी यूनियन, विश्वविद्यालय, महाविद्यालय एवं अन्य संस्थानों से भी वैक्सीनेशन के दूसरे डोज का डाटा एकत्रित कर उसका आकलन करें ताकि निर्धारित समय में तय लक्ष्य को पूर्ण किया जा सके।
उन्होंने बताया कि जिला के सभी उपमंडलाधिकारी अपने कार्य क्षेत्र को सेक्टर में विभाजित करें तथा अलग-अलग सेक्टर में चलती हुई गाड़ियों के माध्यम से अनाउंसमेंट के साथ लोगों का वैक्सीनेशन करवाएं।
उन्होंने बताया कि यदि किसी क्षेत्र में लोग टीकाकरण करवाने से मना करते हैं तो उसका डाटा भी एकत्रित कर कार्यालय को भेजे ताकि उसकी जानकारी प्रदेश सरकार को प्रेषित की जा सके।

उन्होंने जिला में सभी अधिकारियों को प्रदेश सरकार द्वारा तय कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करवाने की भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने बताया कि जिला के सभी अधिकारी इस दिशा में बेहतर कार्य कर रहे हैं निर्धारित लक्ष्य को तय समय सीमा में पूरा करने के लिए सभी अधिकारी समन्वय स्थापित कर कार्य करें।

मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण 2022 के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए

उन्होंने बताया कि जिला में 18 से 19 आयु वर्ग के सभी पात्र मतदाताओं को पंजीकृत करवाने के लिए सभी अधिकारी कार्य करें ताकि अधिक से अधिक लोगों का नाम मतदाता सूचियों में दर्ज हो सके।
उन्होंने बताया कि सभी अधिकारी अपने बीएलओ के साथ बैठक का आयोजन करें तथा उक्त कार्य को ऑनलाइन माध्यम से ही करवाए।

बैठक में जिला के समस्त उपमंडलाधिकारी उपस्थित थे।