Mon. Feb 26th, 2024

मंडी, 13 अगस्त : तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. राम लाल मारकंडा ने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के कौशल विकास पर जोर दे रही है, ताकि युवा रोजगार ढूंढने की बजाए रोजगार देने वाले बनें। प्रदेश में पूर्ण रूप से दक्ष युवाओं को तैयार करने के लिए प्लान बनाकर कार्य किया जाएगा।
वे आज सुंदरनगर में तकनीकी शिक्षा निदेशालय में विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ बैठक कर रहे थे।
डॉ. मारकंडा ने कहा कि तकनीकी, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास बेरोजगारी की समस्या से निपटने में कारगर उपाय हैं। शिक्षा के साथ युवाओं के हुनर को निखारना बेहद जरूरी है। इस ओर बल देते हुए तकनीकी शिक्षा की तस्वीर बदलने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे।
तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर युवाओं के कौशल विकास पर बहुत जोर देते हैं। इसके माध्यम से ‘विकसित भारत’ एवं ‘स्वर्णिम हिमाचल’ का संकल्प साकार करना संभव है।
उन्होंने अधिकारियों को तकनीकी शिक्षा क्षेत्र के उत्थान के लिए योजनापूर्वक कार्य करने के निर्देश दिए।
बैठक में तकनीकी शिक्षा निदेशक शुभकरण सिंह ने मंत्री को विभाग की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने तकनीकी शिक्षा के उत्थान के लिए अपने सुझाव भी दिए, जिन्हें मंत्री ने गौर से सुना और इनके कार्यान्वयन का भरोसा दिलाया।
बैठक में तकनीकी शिक्षा निदेशालय के समस्त अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे