Tue. Apr 23rd, 2024

शिमला, 26 नवम्बर: सविंधान में निहित अधिकार के साथ-साथ मौलिक कर्तव्यों का पालन प्रत्येक व्यक्ति को करना अत्यन्त अवश्यक है तभी हम देश के प्रति अपनी जिम्मेवारी का निष्ठापूर्वक निर्वहन करने में सक्षम होंगे । शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य, विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने संविधान दिवस के अवसर पर आज बचत भवन में आयोजित शपथ समारोह के उपरान्त अपने सम्बोधन में यह विचार व्यक्त किए ।
उन्होंने बताया कि डा0 भीमराव अम्बेदकर की अध्यक्षता में संविधान समिति का गठन कर संविधान का निर्माण किया गया । डा0 भीमराव अम्बेदकर पिछड़े व दलित वर्ग से सम्बन्ध रखते थे । आज का दिन उन्हें नमन करने का दिन है । समाज को निष्पक्ष न्याय प्रणाली मिले तथा विभिन्न वर्गों के अन्तर को बराबर कर देश की एकता व सामाजिक सन्तुलन बनाए रखने के लिए तत्कालीन विधि मंत्री व संविधान निर्माता की कानूनी एंव राजनैतिक योग्यता के कारण ही देश के प्रबल संविधान का निर्माण हुआ ।
उन्होंने कहा कि हमारा संविधान विश्व का सबसे अद्वितीय संविधान है जिसमें प्रत्येक वर्ग के अधिकार एवं कर्तव्य संरक्षित है । उन्होंने खेद जताया कि कालान्तर में देश के संविधान से छेड़छाड़ करने का प्रयास भी किया गया किन्तु संविधान की सशक्त प्रणाली के तहत उन प्रयासों को सफल नहीं होने नहीं दिया गया ।
उन्होंने कहा कि हम संविधान संगत सम्पूर्ण देश की व्यवस्था करते है। संविधान देश में सर्वोच्च है यदि कोई भी व्यक्ति संविधान की अवहेलना या उल्लंघन करता है तो इस सम्बन्ध में न्याय पालिका की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि जहां संविधान बनाने का कार्य विधान पालिका करती है वहीं राज्य व्यवस्था कार्यपालिका द्वारा की जाती है, यही हमारे संविधान का महत्व है । विभिन्न विषयों पर देश की क्या नीति होनी चाहिए, इसके प्रति राज्य नीति निर्देशक तत्व संविधान में सरकारों के लिए बनाए गए है । उन्होंने जिला तथा प्रदेशवासियों से संविधान के अनुरूप देश एवं प्रदेश को आगे ले जाने का आग्रह किया, ताकि संविधान निर्माताओं की अंकांक्षाओं को पूरा किया जा सके और देश फिर से विश्व गुरू बन सके ।
इस अवसर पर शहरी आवास मंत्री ने उपायुक्त कार्यालय में कार्यरत समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संविधान की शपथ भी दिलाई । समारोह में संविधान पर बनी फिल्म भी प्रदर्शित की गई ।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त अपूर्व देवगन, पुलिस अधीक्षक मोहित चावला, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी कानून एवं व्यवस्था प्रभा राजीव, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी प्रोटोकाॅल विनय धीमान, सहायक आयुक्त डा0 पुनम, उपमण्डलाधिकारी ग्रामीण मनोज कुमार, उपमण्डलाधिकारी शहरी मनजीत शर्मा, जिला राजस्व अधिकारी संतराम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे ।