Sun. May 26th, 2024

जनजातीय जिला किन्नौर में आज कड़ाके की ठंड के बावजूद क्षेत्रीय अस्पताल रिकांग पिओ, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पूह तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र किल्बा में आज कोविड-19 वैक्सीन को लेकर ड्राई-रन का आयोजन किया गया। इसका मुख्य उद्देश्य कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास करना था, ताकि वास्तविक टीकाकरण के समय किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े। उन्होंने बताया कि ड्राई रन में 25 व्यक्तियों को शामिल किया गया।
डाॅ. सोनम नेगी ने बताया कि देश को कोरोना वैक्सीन मिलते ही सभी राज्यों में चरणबद्ध तरीके से कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की योजना बनाई जा रही है। योजना अनुसार सबसे पहले फ्रंट लाईन कार्यकर्ताओं का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ड्राई रन के दौरान वास्तविक टीकाकरण के समय अपनाई जाने वाली सभी प्रक्रियाओं को अपनाया गया। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए आने वाले व्यक्ति को पहले भारत सरकार के बव.ूपद पोर्टल पर रजिस्ट्र करना होगा जिसके उपरान्त रजिस्ट्रड व्यक्ति के मोबाईल नम्बर पर टीकाकरण से संबंधित सभी जानकारियां उपलब्ध करवा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना टीकाकरण अभियान के तहत प्रतिदिन चिन्हित स्वास्थ्य केन्द्र पर 100 व्यक्तियों को टीकाकरण किया जा सकता है। इसके लिए जिले के 13 स्थानों का चयन किया गया है जिनमें क्षेत्रीय अस्पताल रिकांग पिओ, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सांगला, सामुुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र निचार, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र किल्बा, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भावानगर, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कटगांव, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र टापरी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र उरनी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पूह, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ज्ञाबुंग, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्पीलो, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रिब्बा तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मूरंग शामिल हैं।
उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में कोविड-19 का टीकाकरण प्रथम पंक्ति कार्यकर्ता जिनमें चिकित्सक, मेडिकल स्टाॅफ, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व आशाकर्ता शामिल हैं, जबकि द्वितीय चरण में पुलिस तथा राजस्व विभाग के ऐसे कर्मचारी जो सीधे तौर पर कोविड बचाव कार्यों से जु़ड़े हैं। तृतीय चरण में 60 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण किया जाएगा।
इस अवसर पर उपमण्डलाधिकारी कल्पा डाॅ. मेजर अवनींद्र कुमार उपस्थित थे।
.0.