Wed. Apr 24th, 2024

शिमला, 28 सितम्बर
हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम के सभागार में प्रदेश समन्वयक नवीन शर्मा की अध्यक्षता में प्रशिक्षण सेवा प्रदात्ताओं एवं बैचुलर आॅफ वाॅकेशन के अधिकारियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।
बैठक में विभिन्न मुद्दों के तहत चर्चा हुई, जिसमें विशेष तौर पर बैचुलर आॅफ वाॅकेशन के रिटेल अथवा टूरिज्म एवं हाॅस्पिटिलिटी के अंतिम वर्ष के 500 प्रशिक्षुओं के प्लेसमेंट के विषय में समीक्षा की गई, जोकि कोरोना के कारण अस्थाई रूप से स्थगित हो गया था।
नवीन शर्मा ने बताया कि बैठक के दौरान विभिन्न अन्य महत्वपूर्ण बिदुंओं पर चर्चा की गई, जिसके तहत ग्रेजुएट एड आॅन के प्रशिक्षुओं को दी जाने वाली नौकरी में न्यूनतम वेतन 15 हजार से कम न हो, सेवा प्रदात्ता यह सुनिश्चित करें। कार्य प्रदान से पूर्व न केवल भावी प्रशिक्षुओं का बल्कि उनके अभिभावकों के साथ भी आवश्यक रूप से परामर्श किया जाए। जाॅब रोल, उद्योग व जाॅब की आवश्यकता से मेल खाते हुए होने आवश्यक है।
उन्होंने बताया कि रोजगार मेलों एवं किसी नए प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू करने से पहले जिला स्तर पर हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम के अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित की जाए। इन्डस्ट्री कनेक्ट के जरिए बेहत्तर प्लेसमेंट की व्यवस्था सुनिश्चित करना महीने में कम से कम एक बार प्रशिक्षण सेवा प्रादात्ताओं के साथ समीक्षा बैठक की व्यवस्था करना जैसे अह्म मुद्दे बैठक में विचारनीय रहे।
उन्होंने बताया कि बैठक में सभी मुद्दों पर गंभीरता से विचार किया गया तथा प्रतिनिधियों की जवाबदेही तय करने के निर्देश दिए।
बैठक में महा प्रबंधक सुनील ठाकुर, उप महाप्रबंधक गौरव महाजन, पूजा शर्मा एवं क्षेत्र विशेषज्ञ कपील भारद्वाज व तिलक धीमान उपस्थित थे।