Fri. Apr 12th, 2024

जिला कोषाधिकारी किन्नौर गिरजा मनकोटिया ने आज यहां कहा कि हिमाचल सरकार के पैंशन भोगीयों को अपना जीवन प्रमाण पत्र सम्बन्धित कोषाधिकारी कार्यालय में जमा करवना आवश्यक हैं। उन्होनें कहा कि अब आधार संख्या को ई-पैंशन प्रणाली में जीवन प्रमाण पत्र से जोडा गया है। ऐसे में पैंशन भोगी स्वयं जीवन प्रमाण पत्र बेबसाईट द्वारा प्रमाणित कर सकते है तथा जीवन प्रमाण पत्र की प्रति सम्बन्धित कोष कार्यालयों में प्रेषित कर सकते है।
कुमारी गिरजा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार के ऐसे पैंशन भोगी जो राज्य के बाहर रह रहे है और राज्य के बाहर स्थित बैंको से पैंशन प्राप्त कर रहे उन्हें अपना जीवन प्रमाण पत्र उस राज्य या केन्द्र सरकार के राजपत्रित अधिकारी द्वारा सत्यापित कर प्रस्तुत करते थे वे भी अब जीवन प्रमाण पत्र बेबसाईट के माध्यम से तैयार कर सम्बन्धित कोष कार्यालय को भेज सकते है।
उन्होेनें कहा कि वैश्विक कोविड महामारी से उत्पन स्थिति के मध्य नजर जिन पैंशन भोगीयों ने अपना जीवन प्रमाण पत्र सम्बन्धित कोषाधिकारी कार्यालय में जमा नहीं करवाया है उन से आग्रह किया जाता है कि वे अपना जीवन प्रमाण पत्र ूूूwww.jeevanpraman.cov.in पर जा कर बाॅयोमैट्रिक प्रमाणीकरण आधारित जीवन प्रमाण पत्र का उपयोग करे ताकि कोष कार्यालय में जाने से बचा जा सकें।
उन्होनें कहा कि पैंशन भोगीयों को जीवन प्रमाण पत्र की हाड कापी डाक द्वारा सम्बन्धित कोष कार्यालय में आवश्य भेजें।