Tue. Jul 23rd, 2024

शिमला, 11 जून:
जिला में 392 टीकाकरण केन्द्रों के माध्यम से 4446 सत्रों के तहत अभी तक 3 लाख 11 हजार 49 लोगों का टीकाकरण किया गया है। यह जानकारी आज उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने कोविड टीकाकरण की जिला कार्यदल की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।
उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा घोषित विभिन्न विभागों के फ्रंट लाईन वर्करस् 19 जून, 2021 तक अपना टीकाकरण करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस संबंध में त्वरित कार्यवाही कर अपने-अपने विभाग के फ्रंट लाईन वर्करस् का टीकाकरण करवाएं।
उन्होंने कहा कि सभी को टीकाकरण सुनिश्चित हो सके इसके लिए सम्बद्ध अधिकारी समन्वय स्थापित कर कार्य करें। उन्होंने बैठक के दौरान उपमण्डलाधिकारियों तथा खण्ड विकास अधिकारियों को इस संबंध में पंचायती राज संस्थाओं, युवक मण्डलों, महिला मण्डलों तथा स्थानीय संस्थाओं के पदाधिकारियों व सदस्यों के साथ समन्वय स्थापित कर अपने-अपने क्षेत्र में टीकाकरण के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए तथा छूट गए लोगों के टीकाकरण के लिए कार्य योजना बनाकर इसे प्रभावी रूप से क्रियान्वित करें ताकि सभी का टीकाकरण हो सके।
उन्होंने बताया कि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का सोमवार और वीरवार को टीकाकरण किया जाएगा जबकि 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों का मंगलवार, बुधवार, शुक्रवार व शनिवार को टीकाकरण किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए सोमवार 14 जून, 2021 को होने वाले टीकाकरण के लिए शनिवार 12 जनू, 2021 को दोपहर 2.30 से 3 बजे तक स्लाॅट खुलेगा जबकि 17 जून, 2021 को होने वाले टीकाकरण के लिए 15 जून, 2021 मंगलवार के दिन स्लाॅट खुलेगा। उन्होंने बताया कि 14 जून, 2021 जिला में 33 सत्रों में तथा 17 जून, 2021 को 32 सत्रों में टीकाकरण कार्य किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि जिला में दिव्यांगजनों को शत-प्रतिशत टीकाकरण सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए अधिकारी गंभीरता से प्रयास करें ताकि इन्हें किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े तथा सभी को टीकाकरण सुनिश्चित हो सके।
इस दौरान टीकाकरण के साथ-साथ कोरोना संक्रमण के उपचार के लिए रोगियों को प्रदान की जाने वाली अन्य सुविधाओं के संबंध में भी चर्चा की गई। उन्होंने अधिकारियों से सभी सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त अपूर्व देवगन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सुरेखा चैपड़ा, वरिष्ठ चिकित्सक अधीक्षक आईजीएमसी डाॅ. जनक राज, वरिष्ठ चिकित्सक अधीक्षक दीन दयाल उपाध्याय डाॅ. रविन्द्र मोख्टा, जिला निगरानी अधिकारी (कोविड) डाॅ. राजेश भारद्वाज, जिला कल्याण अधिकारी राजेश कुमार, शिशु रोग विशेषज्ञ दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल डाॅ. राजेश राणा, सहायक प्रोफेसर शिशु रोग डाॅ. पंचम कुमार, औषध विभाग डाॅ. बी.एस. वर्मा तथा जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. मुनीश सूद उपस्थित थे। .0.