Sat. Jun 22nd, 2024

मंडी, 23 नवंबर : उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने आयुष विभाग मंडी द्वारा स्कूल एडॉप्शन कार्यक्रम के तहत प्रकाशित लघु पुस्तिका का विमोचन किया। इस मौके अतिरिक्त जिलादंडाधिकारी श्रवण मांटा और जिला आयुर्वेदिक अधिकारी मंडी डॉ. गोविन्द राम शर्मा सहित आयुष विभाग के अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।
ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि कोविड 19 महामारी के इस दौर में आयुर्वेद को जीवनशैली के तौर पर अपनाने की और अधिक जरूरत महसूस की जा रही है। ऐसे समय में राष्ट्रीय आयुष मिशन के सौजन्य से प्रकाशित यह पुस्तिका युवा पीढ़ी को बाल्यावस्था से ही आयुर्वेद को लेकर जानकारी बढ़ाने में मददगार होगी । इस लघु पुस्तिका में दिनचर्या, ऋतुचर्या, संतुलित आहार, बच्चों की सामान्य बीमारियां, रक्ताल्पता, स्थानीय औषधीय पौधे, योग व कोविड-19 प्रोटोकॉल और आयुष क्वथ आदि विषयों के बारे में बताया गया है।
बता दें, स्कूल एडॉप्शन कार्यक्रम स्कूली बच्चों में स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता पैदा करने और उन्हें स्वस्थ जीवन शैली अपनाने के लिए प्रेरित करने को समर्पित है।
इस मौके जिला आयुर्वेदिक अधिकारी मंडी डॉ. गोविन्द राम शर्मा ने अवगत करवाया कि आयुष विभाग ने मंडी जिला में स्कूल एडॉप्शन कार्यक्रम के अन्तर्गत 687 विद्यालय गोद लिए हैं। इनमें 574 प्राथमिक विद्यालय और 113 माध्यमिक विद्यालय शामिल हैं। इन विद्यालयों में हर महीने एक निर्धारित दिन आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी जाकर बच्चों को स्वास्थ्य सम्बन्धित विषयों पर जानकारी देते हैं। कोरोना महामरी के चलते इस बार इस यह कार्य सुचारू रूप से नहीं हो सका, लेकिन स्थिति में सुधार के साथ ही इसे फिर से पूर्ववत किया जाएगा।
उन्होंने उपायुक्त मंडी का, समय-समय पर आयुष मंत्रालय द्वारा जारी कोविड प्रोटोकॉल को मंडी जिला में सफलतापूर्वक लागू करने के लिए मार्गदर्शन, प्रशासनिक सहयोग के साथ आर्थिक सहायता मुहैया कराने के लिए आभार जताया। लघु पुस्तिका प्रकाशन के को लेकर मार्गदर्शन के लिए प्रदेश आयुष विभाग के निदेशक का भी आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर आयुर्वेद अधिकारी, डॉ. देव कुमार वर्मा, डॉ. विक्रान्त, डॉ. विकास व श्री धर्म सिंह (आयु. फार्मा) उपस्थित थे।