Sat. Jun 22nd, 2024

मंडी, 7 अक्तूबर: जिला में अभी तक कोरोना से ठीक हुए 1301 रोगियों और कोरोना वारियर्स की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर द्वारा आज पोस्ट कोविड मैनेजमैंट अभियान का शुभारम्भ किया गया। इस अभियान के तहत उन सभी लोगों को जो कोरोना से ठीक हुए हैं और कोरोना वारियर्स की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष क्वाथ काढ़ा प्रदान किया जाएगा।
उपायुक्त ने बताया कि रेडक्रॉस के माध्यम से आयुर्वेद विभाग को एक लाख रुपये पोस्ट कोविड कैम्पेन हेतू प्रदान किए गए थे जिससे यह अभियान आरम्भ किया गया है।
उन्होंने कहा कि कोरोना को मात देने वाले रोगियों को लम्बे समय तक देखभाल की जरूरत रहती है इनमें अवसाद, चिन्ता, स्वास सम्बन्धित तकलीफ, कमजोरी, थकान, पैरों और सर में दर्द इत्यादि की समस्या रहती है। उन्होंने बताया कि आयुष मंत्रालय द्वारा इनकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए रखने के लिए एडवाईजरी जारी की गई है। इन रोगियों के लिए विभिन्न औषद्यियों के प्रयोग बारे समय-समय पर दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।
जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. गोविन्द राम ने बताया कि अभियान के तहत आयुर्वेद विभाग कोरोना महामारी से ठीक हो चुके लोगो को स्वास्थ्य विभाग के साथ मिल कर एक किट देगा। जिसमे रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करने हेतू अन्य औषद्यियो के साथ आयुष क्वाथ दिया जायेगा। आयुष क्वाथ में चार द्रव्य मुख्य रूप में है तुलसी, सोंठ, कालीमिर्च और दालचीनी। इस क्वाथ को घर पर आसानी से बनाया जा सकता है और प्रतिदिन दो बार इसका सेवन करना होगा। उन्होंने बताया कि कोविड केयर केन्द्रो में कोविड-19 के रोगियों को भी प्रतिदिन आयुष क्वाथ दिया जाता है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. देवेन्द्र शर्मा ने बताया कि जिला में आशा व स्वास्थय कार्यकर्ताओं के माध्यम से कोरोना महामारी से ठीक हुए रोगियों को उनके घर द्वार पर आयुष काढ़ा वितरित किया जाएगा।
इस अवसर पर आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी डा. हितेश शर्मा, डा. यसवंत ठाकुर, डा. माणिक बेहल, डा. विक्रांत, डा. विक्रांत ठाकुर और आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट धर्म सिंह उपस्थित थे