Fri. Apr 12th, 2024

शिमला, 29 फरवरी –
अहिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड के एक प्रवक्ता ने आज यहां जानकारी दी कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा पेटीएम ऐप पर लगाए गए बैन के परिणामस्वरूप हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने भारत बिल पेमेंट प्रणाली से होने वाले बिजली बिलोंहिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड के एक प्रवक्ता ने आज यहां जानकारी दी कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा पेटीएम ऐप पर लगाए गए बैन के परिणामस्वरूप हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने भारत बिल पेमेंट प्रणाली से होने वाले बिजली बिलों के डिजिटल भुगतान को 13 फरवरी, 2024 से बंद कर दिया था परन्तु रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा अब पेटीएम ऐप की सेवाओं को 15 मार्च, 2024 तक बढ़ा दिया गया है।
उन्होंने बताया कि इसके दृष्टिगत हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने भी पेटीएम को बीबीपीएस प्रणाली द्वारा उपभोक्ताओं के बिजली बोर्ड का भुगतान प्रारंभ करने की अनुमति प्रदान की गई है। इसके अलावा अब सभी उपभोक्ता मोबी-क्विक, फोन-पे, गूगल-पे और भीम-ऐप जैसी अन्य ऐप्स के जरिए भी बिजली बिलों का भुगतान 29 फरवरी, 2024 तक कर सकेंगे।
उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने पेटीएम के स्थान पर अन्य सेवा प्रदाताओं को रखने की आवश्यक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है तथा आने वाले समय में ऑनलाईन बिजली बिलों के भुगतान में कोई समस्या नहीं आएगी।
.0.
के डिजिटल भुगतान को 13 फरवरी, 2024 से बंद कर दिया था परन्तु रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा अब पेटीएम ऐप की सेवाओं को 15 मार्च, 2024 तक बढ़ा दिया गया है।
उन्होंने बताया कि इसके दृष्टिगत हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने भी पेटीएम को बीबीपीएस प्रणाली द्वारा उपभोक्ताओं के बिजली बोर्ड का भुगतान प्रारंभ करने की अनुमति प्रदान की गई है। इसके अलावा अब सभी उपभोक्ता मोबी-क्विक, फोन-पे, गूगल-पे और भीम-ऐप जैसी अन्य ऐप्स के जरिए भी बिजली बिलों का भुगतान 29 फरवरी, 2024 तक कर सकेंगे।
उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड ने पेटीएम के स्थान पर अन्य सेवा प्रदाताओं को रखने की आवश्यक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है तथा आने वाले समय में ऑनलाईन बिजली बिलों के भुगतान में कोई समस्या नहीं आएगी।
.0.
तिरिक्त उशिमला, 29 फरवरी –
अतिरिक्त शिमला, 29 फरवरी –
अतिरिक्त उपायुक्त शिमला अभिषेक वर्मा की अध्यक्षता में आज यहाँ राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के संदर्भ में आयोजित बैठक की अध्यक्षता की और इस दिशा में की जा रही तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने कहा कि जिला में 03 मार्च, 2024 को पांच वर्ष तक के सभी शिशुओं को स्वास्थ्य केंद्रों, बूथों एवं मोबाइल टीमों द्वारा पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जिला में 643 बूथों, 22 ट्रांजिट एवं 16 मोबाइल टीमों के माध्यम से 61194 शिशुओं को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। इस दौरान प्रवासी मजदूरों के बच्चों को भी पोलियो की खुराक दी जाएँगी।
अभिषेक वर्मा ने कहा कि पोलियो दिवस के सफल आयोजन के लिए 2836 टीम सदस्यों के साथ 152 सुपरवाइजर की भी तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि जिला में राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सन्दर्भ सभी तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है। उन्होंने पुलिस विभाग को ट्रांजिट बूथों पर दो-दो सुरक्षा कर्मचारी तैनाती करने का आग्रह किया तथा सभी संबंधित उपमंडल अधिकारियों (ना०) को पोलियो वैक्सीन परिवहन के लिए गाड़ियां उपलब्ध करवाने को कहा।
उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सफल आयोजन के लिए आपस में समन्वय स्थापित करने का भी आग्रह किया।
उपायुक्त शिमला अभिषेक वर्मा की अध्यक्षता में आज यहाँ राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के संदर्भ में आयोजित बैठक की अध्यक्षता की और इस दिशा में की जा रही तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने कहा कि जिला में 03 मार्च, 2024 को पांच वर्ष तक के सभी शिशुओं को स्वास्थ्य केंद्रों, बूथों एवं मोबाइल टीमों द्वारा पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जिला में 643 बूथों, 22 ट्रांजिट एवं 16 मोबाइल टीमों के माध्यम से 61194 शिशुओं को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। इस दौरान प्रवासी मजदूरों के बच्चों को भी पोलियो की खुराक दी जाएँगी।
अभिषेक वर्मा ने कहा कि पोलियो दिवस के सफल आयोजन के लिए 2836 टीम सदस्यों के साथ 152 सुपरवाइजर की भी तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि जिला में राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सन्दर्भ सभी तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है। उन्होंने पुलिस विभाग को ट्रांजिट बूथों पर दो-दो सुरक्षा कर्मचारी तैनाती करने का आग्रह किया तथा सभी संबंधित उपमंडल अधिकारियों (ना०) को पोलियो वैक्सीन परिवहन के लिए गाड़ियां उपलब्ध करवाने को कहा।
उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सफल आयोजन के लिए आपस में समन्वय स्थापित करने का भी आग्रह किया।
पायुक्त शिमला अभिषेक वर्मा की अध्यक्षता में आज यहाँ राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के संदर्भ में आयोजित बैठक की अध्यक्षता की और इस दिशा में की जा रही तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने कहा कि जिला में 03 मार्च, 2024 को पांच वर्ष तक के सभी शिशुओं को स्वास्थ्य केंद्रों, बूथों एवं मोबाइल टीमों द्वारा पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। जिला में 643 बूथों, 22 ट्रांजिट एवं 16 मोबाइल टीमों के माध्यम से 61194 शिशुओं को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। इस दौरान प्रवासी मजदूरों के बच्चों को भी पोलियो की खुराक दी जाएँगी।
अभिषेक वर्मा ने कहा कि पोलियो दिवस के सफल आयोजन के लिए 2836 टीम सदस्यों के साथ 152 सुपरवाइजर की भी तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि जिला में राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सन्दर्भ सभी तैयारियां पूर्ण की जा चुकी है। उन्होंने पुलिस विभाग को ट्रांजिट बूथों पर दो-दो सुरक्षा कर्मचारी तैनाती करने का आग्रह किया तथा सभी संबंधित उपमंडल अधिकारियों (ना०) को पोलियो वैक्सीन परिवहन के लिए गाड़ियां उपलब्ध करवाने को कहा।
उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को राष्ट्रीय पोलियो टीकाकरण दिवस के सफल आयोजन के लिए आपस में समन्वय स्थापित करने का भी आग्रह किया।