Sun. Jul 14th, 2024

राज्यपाल ने आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के क्षेत्रीय लोक सम्पर्क ब्यूरो चंडीगढ़, और भाषा एवं संस्कृति विभाग, हिमाचल प्रदेश के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। यह फोटो प्रदर्शनी भारत की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ पर आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित की गई है। इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज और नगर निगम शिमला की महापौर सत्या कौंडल उपस्थित थीं।

राज्यपाल ने रिज पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की और आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के अवसर पर अमृत महोत्सव का राज्य में शुभारम्भ किया। 12 मार्च दांडी यात्रा आरम्भ होने की वर्षगांठ है, जो भारत की आजादी की लड़ाई की महत्वपूर्ण घटनाओं में से एक है। दांडी यात्रा 25 दिनों तक चलने के बाद 5 अप्रैल को समाप्त हुई थी।

इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि युवा पीढ़ी को 1857 और 1947 के बीच चले स्वतंत्रता संग्राम की जानकारी देने, आजादी के 75 वर्षों में देश के विकास तथा आजादी के 100 वर्ष पूरे होने तक विश्वगुरु भारत की तस्वीर दिखाने के लिए अमृत महोत्सव का आयोजन किया गया है। यह देश के 75 स्थानों पर मनाया जाएगा। इस आयोजन का लक्ष्य लोगों को देश की आजादी और स्वतंत्रता संग्राम के महत्व को समझाना है, साथ ही युवा पीढ़ी को स्वतंत्रता आन्दोलन बारे अवगत करवाना है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में भी आजादी के अनेक आन्दोलन चलाए गए। प्रदेश के विभिन्न भागों में गठित प्रजा मंडलों ने प्रदेश की जनता के भीतर क्रांति की लहर पैदा की। उन सभी देशभ्क्तों को याद करते हुए यह आजादी का अमृत महोत्सव व्यापक स्तर पर आयोजित किया जाएगा।

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन, निदेशक भाषा, कला एवं संस्कृति सुनील शर्मा, पार्षद और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।