Sat. May 25th, 2024

शिक्षा मंत्री और भारत स्काउट्स एंड गाइडस हिमाचल प्रदेश राज्य इकाई के उपाध्यक्ष गोविन्द सिंह ठाकुर ने आज यहां भारत स्काउट्स एंड गाइडस की राज्य परिषद समिति की वर्चुअल बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों ने कोरोना महामारी के दौरान भारत स्काउट्स एंड गाइडस के आदर्श वाक्य ‘आॅलवेज़ बी प्रीपेयर्ड’ को चरितार्थ करके दिखाया है। स्काउट्स एंड गाइडस ने प्रदेशभर में लोगों को कोरोना महामारी के बारे में जागरूक करने और जरूरतमंदों को सहायता उपलब्ध करवाने में अग्रणी भूमिका निभाई है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि संगठन की हिमाचल इकाई के कई कार्यक्रमों का अनुसरण देश के अन्य राज्यों द्वारा किया गया है। उन्होंने कहा कि वल्र्ड आॅर्गेनाइजेशन स्काउट्स मूवमेंटस ने प्रदेश के कार्यक्रमों की सराहना की है। कोरोना महामारी के दौरान भी वर्चुअल माध्यमों से कई प्रकार की कौशल विकास संबंधी कार्यशालाओं का आयोजन करवाया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना कफ्र्यू के दौरान स्काउट फाइट अगेंस्ट कोरोना और स्काउट्स एंड गाइड के लिए स्किल डवेल्पमेंट प्रोग्राम जैसे कार्यक्रम आयोजित किए गए। इन कार्यक्रमों के माध्यम से सदस्यों को कम्प्यूटर स्किल, मास्क मेकिंग आदि गतिविधियांे का प्रशिक्षण दिया गया। प्रदेश में इस संगठन में 1330 विद्यालय और 47 महाविद्यालय पंजीकृत हैं।

गोविन्द सिंह ठाकुर ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि शिक्षा में उत्कृष्टता हासिल करने के अलावा विद्यार्थियों को देश के अच्छे नागरिक बनाया जाए। उन्होंने कहा कि स्काउट्स और गाइडस जैसे संगठन इस दिशा में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने कोरोना महामारी की पहली लहर के दौरान प्रभावितों की मदद में भारत स्काउट्स एंड गाइडस के विद्यार्थियों की भूमिका की सराहना की।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्काउट्स और गाइडस अपने सदस्यों को मानसिक और शारीरिक तौर पर मजबूत बनाने में मदद करते हैं ताकि वे अपने समाज तथा विश्व के लिए सकारात्मक योगदान कर सकें। उन्होंने सदस्यों में समर्पण, सेवा तथा अनुशासन की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि आज यह संगठन विश्व के विभिन्न देशों में कार्यरत है।

इस अवसर पर निदेशक उच्चतर शिक्षा और संगठन के राज्य मुख्य आयुक्त डाॅ. अमरजीत शर्मा ने शिक्षा मंत्री को संगठन के स्कार्फ के साथ स्मृति चिन्ह भेंट किया।

राज्य स्काउट्स एंड गाइड सचिव डाॅ. राजकुमार शिमला से तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी वर्चुअल माध्यम से बैठक में उपस्थित हुए।