Sat. Jun 22nd, 2024

सर्दी के मौसम की तैयारियों को लेकर आज यहां उपायुक्त किन्नौर हेमराज बैरवा की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई। उपायुक्त ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि जिले की भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए सभी विभागों को सर्दी के मौसम के दौरान आने वाली कठिनाइयों से निकलने के लिए जरूरी कदम उठाने व आवश्यक तैयारियां पूर्ण करने के लिए दिशा-निर्देश दिए ताकि सर्दी के मौसम के दौरान जिले के लोगों को किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े।
बैरवा ने कहा कि सर्दी के दौरान आपदा से निकलने के लिए जिला मुख्यालय में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाएगा। इसी तरह के नियंत्रण कक्ष उप-मण्डल स्तर पर भी स्थापित किए जाएंगे ताकि आपदा के समय लोग यहां सम्पर्क कर सकें और प्रशासन शीघ्र अति शीघ्र उन्हें सहायता उपलब्ध करवा सके। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को बर्फ के दौरान राष्ट्रीय उच्च-मार्ग सहित अन्य सम्पर्क सड़कों को सुचारू रूप से खुले रखने के लिए सभी प्रकार की आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस दौरान बर्फ हटाने के लिए आवश्यक श्रम शक्ति व अन्य मशीनों इत्यादि की जांच समय रहते कर ली जाए ताकि बर्फबारी की स्थिति में तत्काल अवरूद्ध मार्गों को खोला जा सके।
उन्होंने सिंचाई विभाग को भी बर्फबारी के दौरान पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित बनाने के लिए आवश्यक तैयरियां करने के निर्देश दिए ताकि लोगों को पेयजल से संबंधित किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना न करने पड़े। उन्होंने विद्युत विभाग को भी बर्फबारी के दौरान निर्वाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित बनाए रखने के लिए सभी प्रकार की तैयारियां करने के निर्देश दिए। विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित बनाने के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले आवश्यक उपकरण समय रहते स्टोर किए जाएं ताकि बर्फबारी के दौरान विद्युत आपूर्ति में किसी प्रकार की बाधा न आए।
उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग को भी निर्देश दिए कि बर्फबारी से पूर्व आवश्यक दवाओं को अस्पतालों व स्वास्थ्य उप-केन्द्रों तक पहुंचाना सुनिश्चित बनाएं ताकि लोगों को उनके घर-द्वार के निकट दवाईयां व आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सकें। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पूह में 7 दिन 24 घंटे स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने की संभावनाओं को तलाशने के निर्देश दिए ताकि पूह तथा उपरी किन्नौर के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं पूह स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में ही उपलब्ध हो सकें।
उन्होंने जिला की तर्ज पर ही उप-मण्डल स्तर पर भी त्वरित कार्यवाही दल गठित करने के निर्देश दिए ताकि आपदा के दौरान लोगों को तुरंत सहायता उपलब्ध करवाई जा सके। उन्होंने बर्फबारी के दौरान संचार व्यवस्था सुचारू रूप से बनाए रखने के भी निर्देश दिए।
बैठक में पुलीस अधीक्षक एस आर राणा, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी अश्वनी कुमार, उप-मण्डलाधिकारी कल्पा डाॅ. मेजर अवनिन्नदर कुमार, सहायक आयुक्त मुनीष कुमार शर्मा व ग्रामीण विकास अभिकरण की परियोजना अधिकारी जयवंती ठाकुर नेगी व विभिन्न विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।