Sat. Jun 22nd, 2024

शिमला, 31 अगस्त:EDITOR IN CHIEF
शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य, विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज मैहंदली मण्डी रोहडू का निरीक्षण किया तथा सेब सीजन के दौरान विभिन्न व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक का आयोजन किया गया।
उन्होंने बताया कि पूर्व सरकार के कार्यकाल के दौर में एमआईएस के अंतर्गत 5 वर्षो में सिर्फ 1 रुपए ही बढ़ाया गया था वही वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा बीते 4 वर्ष के कार्यकाल में ही अढ़ाई रुपए एमआईएस के अंतर्गत बढ़ाया गया है।
सेब सीजन के दौरान विपक्षी दलों को राजनीति छोड़ कर आंकड़ों पर ध्यान देने की आवश्यकता है।
उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा सेब सीजन के दौरान आ रही विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए प्रयासरत है यदि इस दौरान कोई भी व्यक्ति गलत गतिविधियों में संलिप्त पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
उन्होंने बताया कि जिला तथा प्रदेश में सेब मण्डियों के बिछे जाल से क्षेत्र की जनता को अनेकों लाभ प्राप्त हुए है, जिससे प्रदेश के हर वर्ग को लाभ प्राप्त हो रहा है।
उन्होंने कहा कि 5 हजार करोड़ की आर्थिकी प्रदान करने वाला हिमाचल प्रदेश सेब राज्य के रूप में जाना जाता है जहां बागवानों को इस आर्थिकी का फायदा होता है वहीं बाहरी राज्यों से आए व्यापारी तथा ट्रांसपोर्टर तथा लोडिंग एवं अनलोडिंग करने वाले मजदूरों को भी फायदा मिलता है।
उन्होंने बताया कि पराला मण्डी में निर्माणाधीन 100 करोड़ रुपये की लागत से बनने जा रहे प्रोसेसिंग प्लांट का निर्माण कार्य मार्च, 2022 तक पूरा होगा, जिससे वहां पर 27 मीट्रिक टन सेब की खपत होगी साथ ही वहां पर एपीएमसी द्वारा सीए स्टोर का निर्माण कार्य भी किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि सभी लोग बाजार में सेब उतना ही भेजे जितनी खपत होगी ताकि बाजार में सेब के दाम बने रहे।
इस अवसर पर एपीएमसी अध्यक्ष नरेश शर्मा, उपमंडलाधिकारी रोहडू सुरेन्द्र कुमार, पार्टी पदाधिकारी एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।
.0.